1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. Ollie Robbinson shatters indian batting line up with guidance of james anderson
Written By
Last Updated : रविवार, 29 अगस्त 2021 (00:02 IST)

एंडरसन से सीखी यह खास गेंद और रॉबिन्सन ने ऐसे जमे जमाए बल्लेबाजों को किया आउट (वीडियो)

लीड्स:अब तक इंग्लैंड के लिए सिर्फ एक गेंदबाज ही किला लड़ा रहा था वो थे जेम्स एंडरसन। लेकिन आज युवा ओली रॉबिन्सन ने टीम के लिए कमाल की गेंदबाजी की। लेकिन उनके आज के प्रदर्शन में भी अनुभवी जेम्स एंडरसन का हाथ था।  

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज ओली रॉबिन्सन ने शनिवार को कहा कि टीम के उनके अनुभवी साथी जेम्स एंडरसन ने उनकी ‘वॉबल ग्रिप बॉल’ तकनीक को बदलने में मदद की और इससे उन्हें भारत के खिलाफ तीसरे टेस्ट में शानदार परिणाम मिला।

रॉबिन्सन ने मैच के चौथे दिन नयी गेंद से चार विकेट झटककर भारतीय टीम की दूसरी पारी में 26 ओवर में 65 रन खर्च कर पांच विकेट लिये।

सिर्फ विकेट ही नहीं रॉबिन्सन ने मैच में जब और जिसके विकेट लिए वह भी काफी मायने रखता है। रोहित शर्मा को 59 रनों पर पगबाधा आउट कर उन्होंने दूसरे विकेट के लिए 82 रनों की साझेदारी तोड़ी।

इसके बाद चेतेश्वर पुजारा को 91 रनों पर आउट कर तीसरे विकेट के लिए 99 रनों की साझेदारी तोड़ी। यही नहीं टीम इंडिया की अंतिम आस विराट कोहली को उन्होंने 55 रनों पर जो रूट  के हाथों कैच कर मैच इंग्लैंड को इंग्लैंड की झोली में डाल दिया।

ध्यान देने वाले बात यह है कि रॉबिन्सन ने बड़े स्कोर बनाने वाले इन तीनों ही बल्लेबाजों को तब आउट किया जब वह पिच पर जम चुके थे।
जिससे इंग्लैंड की टीम ने पारी और 76 रन से जीत दर्ज की। इंग्लैंड की इस जीत के साथ ही पांच मैचों की श्रृंखला 1-1 से बराबर हो गयी है।

मैन ऑफ द मैच रॉबिन्सन ने कहा, ‘‘ मैंने देखा कि जिमी (एंडरसन) ने गेंदबाजी के लिए ‘वॉबल ग्रिप’ को थोड़े अलग तरीके से पकड़ रखा है। मैं इसे दूसरी तरफ से पकड़ रहा था, इसलिए मैंने उससे बात की और फिर नेट्स सत्र इसका अभ्यास करने की कोशिश की।’’

‘वॉबल ग्रिप’ गेंदबाजी के समय सीम के ऊपर गेंदबाज की अंगुलियों के बीच सामान्य से अधिक फैलाव होता है।

उन्होंने कहा, ‘‘ यह काफी अच्छा रहा, इसलिए मैंने इसे मैच में आजमाया और इसका फायदा भी हुआ। यह कुछ ऐसा है जिस पर मुझे थोड़ा और अभ्यास करने की जरूरत है। मेरे करियर के इस पड़ाव पर सीखने का यह अवसर मेरे लिए और बेहतरीन है। सौभाग्य से यह आज पूरा हो गया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ जाहिर है, जिमी के साथ गेंदबाजी की शुरुआत करना और दोनों छोर से दबाव बनाना अच्छा रहता है। मैंने इसका लुत्फ उठाया और उम्मीद है कि मैं इसे जारी रख सकता हूं।’’

भारत दिन की शुरुआत में दो विकेट पर 215 रन बनाकर अच्छी स्थिति में था लेकिन फिर पूरी टीम 278 रन पर पवेलियन लौट गयी।

इंग्लैंड ने दूसरी नयी गेंद के साथ दिन की शुरुआत और रॉबिन्सन ने चेतेश्वर पुजारा को कल के स्कोर में बिना कोई रन जोड़े 91 रन पर आउट कर दिया।

खराब लय में चल रहे भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अर्धशतक पूरा किया लेकिन वह दूसरी पारी में रॉबिन्सन का चौथा शिकार बने। उनके आउट होने के बाद टीम की बल्लेबाजी पूरी तरह लड़खड़ा गयी।

रॉबिन्सन ने कहा, ‘‘ यह एक बहुत ही खास दिन की तरह लग रहा है, मुझे ऐसा नहीं लगता कि जीत का खुमार अभी कम हुआ है। मेरे लिए, यह मेरे क्रिकेट करियर के शानदार दिनों में से एक है, मेरी पहली टेस्ट जीत हासिल करना वाकई खास है।’’

कोहली के विकेट के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘ यह एक अद्भुत अहसास है। यहां के दर्शक अविश्वसनीय थे। जब हमने कोहली को आउट किया तो उन्होंने जोर से शोर मचाकर जश्न मनाया। उस विकेट को हासिल करना बस एक अविश्वसनीय अनुभव जैसा था।’’(भाषा)
ये भी पढ़ें
1928 ओलंपिक में मिला था भारत को एक कोहिनूर, नाम था मेजर ध्यानचंद