ICC टेस्ट के बाद पाकिस्तान के Mohammad Hafeez को फिर से गेंदबाजी करने की मंजूरी

पुनः संशोधित बुधवार, 12 फ़रवरी 2020 (19:25 IST)
केपटाउन। के ऑलराउंडर को आईसीसी ने फिर से गेंदबाजी करने की अनुमति दे दी है। हफीज का गेंदबाजी टेस्ट लाहौर में लिया था, जिसके बाद उन्हें गेंदबाजी करने की मंजूरी मिली है। अब वे इंग्लैंड में काउंटी क्रिकेट में दोबारा खेल सकेंगे।

39 वर्षीय हफीज को 30 अगस्त को मिडलसेक्स और सॉमरसेट के बीच खेले गए टी20 मैच में अंपायरों द्वारा के लिए दोषी पाया गया था।

लॉफबोरो विश्वविद्यालय में किए गए एक स्वतंत्र मूल्यांकन में पाया गया कि हफीज की कोहनी 15 डिग्री से अधिक मुड़ती है। इसके बाद उन्हें इंग्लैंड के घरेलु क्रिकेट से निलंबित कर दिया गया था। 2018 में हफीज ने मिडिलसेक्स के लिए 4 टी20 मैच खेले थे।

सनद रहे कि मोहम्मद हफीज बीते 6 सालों में कई बार निलंबन का सामना कर चुके हैं लेकिन अब आईसीसी की हरी झंडी मिलने के बाद उनकी तमाम परेशानियां काफी हद तक दूर हो गई हैं।

हफीज को पहली बार 15 साल पहले 2005 में ऑस्ट्रेलिया में एकदिवसीय त्रिकोणीय सीरीज के दौरान संदिग्ध गेंदबाजी एक्शन का दोषी पाया गया था। 2014 में चैंपियंस लीग टी20 के दौरान उन पर कार्रवाई की रिपोर्ट की गई थी।

फिर 2014 में न्यूजीलैंड के खिलाफ एक टेस्ट मैच के बाद उन्हें गेंदबाजी करने से रोका गया था और 12 महीने का प्रतिबंध लगाया गया था। 2016 में वे फिर से मैदान पर नजर लेकिन 2017 में उनकी संदिग्ध गेंदबाजी का मुद्दा फिर से गरमा गया था।


और भी पढ़ें :