क्या हुआ था जब आखिरी बार मोटेरा पर भिड़े थे भारत और इंग्लैंड?

पुनः संशोधित मंगलवार, 23 फ़रवरी 2021 (14:07 IST)
आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के लिए और की टीमों में रस्साकशी सीरीज को 1-1- की बराबरी पर ले आई है। में खेले जाने वाले दो टेस्ट के बाद यह तय हो जाएगा कि लॉर्डस् में न्यूजीलैंड के खिलाफ 18 जून को टेस्ट मैच में कौन उतरता है, भारत या इंग्लैंड।
अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में भारत और इंग्लैंड की टीमें साल 2012 में आपस में भिड़ी थी। वह सरीज का पहला टेस्ट था। 2011 में भारत जब इंग्लैंड दौरे पर गई थी तो उसे करारी हार का सामना करना पड़ा था। ऐसे में यह सीरीज बदला लेने के भाव से खेली गयी।

क्या हुआ था उस टेस्ट में
यह टेस्ट 15-19 नवंबर के बीच खेला गया। भारत ने टॉस जीता और चेतेश्वर पुजारा के शानदार दोहरे शतक की बदौलत भारत ने 521 रनों का पहाड़ खड़ा किया। जवाब में इंग्लैंड की टीम सिर्फ 191 पर ऑल आउट हो गई। इंग्लैंड का एक भी बल्लेबाज 50 रन नहीं बना पाया और प्रज्ञान ओझा ने 5 विकेट लिए।
भारत ने इंग्लैंड को फॉलोआन खिलाया लेकिन कप्तान एलिस्टर कुक ने शानदार बल्लेबाजी की 176 रन बनाने वाले कुक ने मैट प्रायर
के साथ मिलकर किला लड़ाया जो अपना शतक 9 रनों से चूक गए। इस पारी में प्रज्ञान ओझा ने 4 विकेट लिए। 406 पर ऑलआउट होकर इंग्लैंड ने भारत को मामूली 80 रनों का लक्ष्य दिया जिसे भारत ने 1 विकेट खोकर पा लिया। भारत इस मैच को 9 विकेट से जीतने में कामयाब रही।

इस मैच में चेतेश्वर पुजारा को इंग्लैंड के गेंदबाज किसी भी पारी में आउट नहीं कर पाए थे। भारत के बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज प्रज्ञान ओझा दोनों ही पारियों में चमके। हालांकि सीरीज के विजयी आगाज के बावजूद भारत यह सीरीज जीतने में नाकामयाब रही। इंग्लैंड यह सीरीज 2-1 से जीता ।

अहमदाबाद की हार के बाद पूरी सीरीज में एलिस्टर कुक ने 600 से ज्यादा रन बनाए। मुंबई में इंग्लैंड 10 विकेट से और कोलकाता में 7 विकेट से जीती। नागपुर का आखिरी टेस्ट ड्रॉ करा कर इंग्लैंड ने भारत में टेस्ट सीरीज 2-1 से जीती। (वेबदुनिया डेस्क)



और भी पढ़ें :