मंगलवार, 16 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. IND vs ENG 3rd Test, Sarfaraz Khan showed a lot of courage England assistant coach Paul Collingwood
Written By WD Sports Desk
Last Updated : शुक्रवार, 16 फ़रवरी 2024 (12:09 IST)

इंग्लैंड के असिस्टेंट कोच ने बांधे सरफराज खान की तारीफों के पुल

Sarfaraz Khan की 62 रन की आक्रामक पारी से भारत ने तीसरे टेस्ट के पहले दिन स्टंप तक पांच विकेट पर 326 रन बनाए

Sarfaraz Khan
England assistant coach Paul Collingwood praised Sarfaraz Khan IND vs ENG 3rd Test : इंग्लैंड के सहायक कोच पॉल कोलिंगवुड (Paul Collingwood) ने गुरुवार को डेब्यू करने वाले सरफराज खान (Sarfaraz Khan) की प्रशंसा के पुल बांधे जिनकी 62 रन की आक्रामक पारी से भारत ने तीसरे टेस्ट के पहले दिन स्टंप तक पांच विकेट पर 326 रन बनाए।
 
सरफराज ने 48 गेंद में ही अर्धशतक जड़ दिया था और कोलिंगवुड ने कहा कि सरफराज ने ऐसा खेलने के लिए काफी साहस दिखाया।
 
कोलिंगवुड ने यहां स्टंप के बाद मीडिया से कहा, ‘‘वह क्रीज पर उतरा और उसने काफी अच्छी बल्लेबाजी की। हमने उसके लिए अच्छा फील्डिंग सजाया। लेकिन वह अपने स्ट्रोक्स खेलना पसंद करता है। ’’
 
उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगा कि बेन स्टोक्स आक्रामक क्षेत्ररक्षण रखना चाहते थे ताकि हम आउट करने का मौका बना सके। सरफराज काफी अच्छा खेला, वह बेखौफ होकर खेला और कुछ मौकों पर ऊपर की ओर शॉट लगाए। ’’

कोलिंगवुड ने कहा, ‘‘वह अच्छी तरह स्वीप करता है और गेंदबाजों को दबाव में ला देता है। डेब्यू पर इस तरह खेलना काफी साहसिक है। और उसके नजरिये से देखूं तो जिस तरह वह रन आउट हुआ, वह शर्मनाक था। आप देख सकते हो कि उसका प्रथम श्रेणी औसत कितना अच्छा है, वह अच्छा खिलाड़ी दिखता है। ’’
 
उन्होंने कहा कि हालांकि इंग्लैंड ने शुरूआती परिस्थितियों का पूरा फायदा उठाया लेकिन इसके बाद उन्हें काफी मशक्कत करनी पड़ी क्योंकि गेंद ‘सॉफ्ट’ हो गई थी और पिच पर गेंदबाजों के लिए ज्यादा कुछ नहीं था।
 
कोलिंगवुड ने कहा, ‘‘यह अच्छी शुरूआत थी, सुबह थोड़ा ‘मूवमेंट’ था। मैदान पर थोड़ी नमी थी और थोड़ा ठंडा भी था। जिम्मी (James Anderson) और वुडी (Mark Wood) शानदार थे। लेकिन जैसे गेंद ‘सॉफ्ट’ होती गई, यह ज्यादा मदद नहीं कर रही थी। ’’
उन्होंने कहा, ‘‘स्पिनरों ने पूरे दिन मशक्कत की लेकिन उन्हें ज्यादा विकेट नहीं मिले। दो खिलाड़ियों (रोहित शर्मा और रविंद्र जडेजा) ने शतक जड़े और सरफराज अंत में अच्छा खेले। हमने इनके खिलाफ योजना और क्षेत्ररक्षण सजाने के मामले में सब जतन कर लिए। ’’ (भाषा)
ये भी पढ़ें
सूर्यकुमार के संदेश के बाद राजकोट पहुंचे थे Sarfaraz Khan के पिता