आईपीएल ने इंग्लैंड टीम को पहुंचाया है टी-20 की नंबर 1 रैंक पर!

Last Updated: रविवार, 4 अप्रैल 2021 (18:05 IST)
लंदन:(ईसीबी) के प्रबंध निदेशक ने कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) उनके लिये लाभकारी रहा है और उन्हें लगता है कि इस टी20 टूर्नामेंट में इंग्लिश क्रिकेटरों की मौजूदगी से राष्ट्रीय टीम को सीमित ओवरों के प्रारूपों में नंबर एक स्थान हासिल करने में मदद मिली।
इससे पहले इस सप्ताह के शुरू में इंग्लैंड के स्टार खिलाड़ी जोस बटलर ने कहा था कि ईसीबी ने उनसे न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला में खेलने के लिये कभी इस लोकप्रिय टी20 प्रतियोगिता से हटने को नहीं कहा।

जाइल्स ने स्काई स्पोर्ट्स के एक कार्यक्रम में कहा, ‘’खिलाड़ियों के साथ बातचीत में मैंने उन्हें अपने कार्यक्रम पर ध्यान देने के लिये प्रेरित किया। मैंने उन्हें निर्देश नहीं दिये।’’
उन्होंने कहा, ‘‘हम किसी भी तरह का दबाव नहीं बना रहे हैं। को नजरअंदाज नहीं किया जा रहा है। इस टूर्नामेंट से हमें बहुत लाभ हुआ है। मुझे लगता है कि हमारी इस टीम से 12 से 16 खिलाड़ी आईपीएल में खेलने के लिये जा रहे हैं। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘वर्षों पहले हमारे लिये खिलाड़ियों को आईपीएल का अनुभव दिलाना मुश्किल था। अब हमारे खिलाड़ियों की वहां काफी मांग है और संभवत: यह बड़ा कारण है कि हम सीमित ओवरों की क्रिकेट के दोनों प्रारूपों में विश्व में नंबर एक हैं। ’’
इंग्लैंड के 12 खिलाड़ी आईपीएल में खेलेंगे और इनमें से कुछ का करार करोड़ों में है। इनमें से बटलर, बेन स्टोक्स और जोफ्रा आर्चर राजस्थान रॉयल्स से, मोईन अली और सैम कुरेन चेन्नई सुपरकिंग्स से, टॉम कुरेन दिल्ली कैपिटल्स से और डाविड मलान पंजाब किंग्स की तरफ से खेलेंगे।

आईपीएल नौ अप्रैल से शुरू होकर 30 मई को समाप्त होगा जबकि इंग्लैंड का न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला टेस्ट मैच दो जून से शुरू होगा।
जाइल्स ने कहा, ‘‘हम खिलाड़ियों को आईपीएल में भेजने के लिये तैयार हैं। इन दो टेस्ट मैचों का कार्यक्रम बाद में तैयार किया गया। वह मूल कार्यक्रम का हिस्सा नहीं थे।’’
उन्होंने कहा, ‘‘हमारी खिलाड़ियों और आईपीएल के साथ सहमति है कि खिलाड़ी टूर्नामेंट के शुरू से ही उपलब्ध रहेंगे और अगर उनकी टीम अंतिम चरण में पहुंचती हैं तो भी वे अपनी टीमों के साथ बने रहेंगे। ’’

टी-20 सीरीज में इंग्लैंड की कप्तानी इयोन मोर्गन संभालने जा रहे हैं। टीम में खतरनाक बल्लेबाज डेविड मलान शामिल हैं, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू टी-20 सीरीज में काफी जबरदस्त बल्लेबाजी की थी। शीर्ष क्रम के बल्लेबाज जैसन रॉय, ऑलराउंडर बेन स्टोक्स, सैम करेन, टॉम करेन, विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर की मौजूदगी में इंग्लैंड की टीम काफी सशक्त नजर आती है।इंग्लैंड इस सीरीज में भारत से टेस्ट सीरीज की हार का बदला चुकाने की पूरी कोशिश करेगा।



और भी पढ़ें :