शनिवार, 13 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. करियर
  3. समाचार
  4. Prepare for career from 12th class itself

12वीं से ही करें करियर की तैयारी

12वीं से ही करें करियर की तैयारी - Prepare for career from 12th class itself
इन दिनों देशभर में इन दिनों केंद्रीय बोर्ड और अलग-अलग राज्यों की बोर्ड की परीक्षाएं चल रही हैं। 12वीं की बोर्ड की परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों पर परीक्षा के साथ-साथ उच्च शिक्षा के लिए सही कोर्स और विषयों के चयन का मनोवैज्ञानिक दबाव भी होता है। स्कूली शिक्षा की बात करें तो 10वीं के बाद बहुत से बच्चे आईटीआई और पॉलिटेक्निक जैसी संस्थाओं में तकनीकी कोर्सेस करने चले जाते हैं।

जो 11वीं में एडमिशन लेते हैं वे इस स्टेज पर आकर विज्ञान, कला और वाणिज्य जैसे विषयों का चयन करते हैं। ऐसा इसलिए ताकि उन्हें उच्च शिक्षा में जाने के लिए अपनी एक स्पष्ट राह बनाने में आसानी हो। ऐसा इसलिए भी करना होता है ताकि करियर के लिहाज से हर स्टूडेंट एक सही एंट्री पॉइंट से आगे बढ़े। ऐसे में यह भी कह सकते हैं कि 12वीं कक्षा एक ऐसा पाइंट है, जहां से आपका करियर तय होगा।
  • स्कूली शिक्षा में 12वीं के दौरान भविष्य के करियर के लिहाज से बहुत महत्वपूर्ण
  • 12वीं में विषयों का चयन बहुत सोच-समझकर करें
  • करियर के लिए किसी काउंसलर से सलाह लेना रहेगा बेहतर
आखिर बारहवीं क्यों है महत्वपूर्ण : मौटे तौर पर देखें तो एजुकेशन में 12वीं तक आते ही तय हो जाता है कि आगे किन विषयों में पढ़ना है। ज्यादातर लोग जिन सब्जेक्ट्स में 12वीं करते हैं उनमें ही उच्च शिक्षा के लिए भी जाते हैं। ऐसे में इस स्टेज को हर स्टूडेंट की लाइफ का माइलस्टोन भी कह सकते हैं जो उसके एजुकेशन और करियर के फील्ड्स में उसे एक सही दिशा में ले जाता है। तो आइए जानते हैं कि 12वीं कक्षा के दौरान ही करियर और आगे की पढ़ाई की तैयारी के लिए क्या करना चाहिए :

कैसे करें शुरुआत : हर वह विद्यार्थी अपनी जिंदगी और करियर को लेकर कुछ सपने जरूर देखता है और यह भी निश्चित है कि करियर ओरिएंटेड स्टूडेंट के लिए 12वीं का रिजल्ट भी बहुत अहम होता है। इसी रिजल्ट के साथ वे तय करते हैं कि आगे क्या और कहां पढ़ेंगे। ऐसे वक्त में जब इंटर-डिसिप्लिनरी और मल्टी-डिसिप्लिनरी स्टडीज का चलन बहुत बढ़ गया है। इसके साथ अब ग्रेजुएशन तथा इंटीग्रेटेड मास्टर्स प्रोग्राम के साथ-साथ डुएल डिग्री सिस्टम जैसे अनेक ऑप्शंस विद्यार्थियों के पास हैं।

ऐसे में 12वीं के दौरान ही अगर आप अपने लिए एक सही विषय का चयन कर लें तो आगे की राह भी स्पष्ट हो सकेगी। अपनी रुचि के विषयों में उच्च शिक्षा के लिए बेहतर इंस्टीट्यूट्स को चुनना, उसके बारे में जानने का होमवर्क भी करते रहना चाहिए। इससे होगा ये कि आपको उन संस्थानों के प्रोग्राम्स और उनके लिए एलिजिबिलिटी, फीस आदि के बारे में काफी जानकारियां हो जाएंगी।

12वीं विज्ञान विषयों के बाद क्या : अगर आप 12वीं विज्ञान विषयों के साथ कर रहे हैं तो आपको इस क्षेत्र से जुड़ी विशेष बातों का ध्यान रखना चाहिए। साइंस को एक विषय के तौर पर अगर हम देखें तो इसका फील्ड काफी बड़ा होता है। साइंस स्ट्रीम में कई सब्जेक्ट्स होते हैं जिनमें से हमें अपने लिए अपनी रुचि का कुछ चुनना होता है। अगर कोई भी स्टूडेंट 12वीं साइंस सब्जेक्ट से पढ़ रहा है तो उसमें भी मैथमेटिक्स और लाइफ साइंसेज के ऑप्शंस होते हैं।

जो लोग मैथमेटिक्स जैसे सब्जेक्ट्स पढ़ते हैं उनके लिए इंजीनियरिंग एविएशन कंप्यूटर इंजीनियरिंग, ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग के साथ और भी बहुत से विकल्प होते हैं। कई बार ऐसा भी होता है कि बहुत से मैथ्स बैकग्राउंड के स्टूडेंट्स भी आगे जाकर लॉ, ह्यूमैनिटीज, डिजाइनिंग और मैनेजमेंट आदि सब्जेक्ट में ग्रेजुएशन करते हैं।

यह सब आपकी पसंद पर निर्भर करता है। बहरहाल अगर आप 12वीं विज्ञान जीव विज्ञान यानी बायोलॉजी या लाइफ साइंसेज में कर रहे हैं तो बायोटेक्नोलॉजी, बायोकेमिस्ट्री, जेनेटिक इंजीनियरिंग, एनवायरनमेंट साइंस और हॉर्टिकल्चर जैसे सब्जेक्ट्स में आप ग्रेजुएशन कर सकते हैं।
  • विज्ञान विषयों में मैथ या बायोलॉजी का चयन अपनी रुचि से करें
  • इंजीनियरिंग और मेडिकल के इतर करियर की सोच रहे हैं तो पूरी तरह सर्च कर आगे बढ़ें
  • विषय बदलकर फैशन डिजाइनिंग, ट्रैवल और टूरिज्म, मैनेजमेंट, लॉ और ह्यूमैनिटीज में भी बेहतर होगा करियर बनाना
इसके साथ-साथ बहुत से स्टूडेंट्स मेडिकल साइंस में पढ़ना चाहते हैं तो इसके लिए वे नीट जैसे एग्जाम देकर मेडिकल साइंस की अलग-अलग ब्रांचेस में एडमिशन लेकर डॉक्टर बन सकते हैं। लेकिन साइंस सब्जेक्ट्स के अलावा भी आपके पास कई अन्य शानदार करियर ऑप्शंस होते हैं। अगर साइंस के कोर सब्जेक्ट्स या किसी दूसरे डिसिप्लिन में आगे पढ़ना चाहते हैं तो उसके लिए अभी से तैयारी करना चाहिए। इससे आगे आपको बहुत मदद मिलेगी।

आर्ट्स में अवसरों की भरमार : अगर आप 12वीं आर्ट्स के सब्जेक्ट के साथ पढ़ रहे हैं तो आगे जाकर उच्च शिक्षा के लिए आप ह्यूमैनिटीज या सोशल साइंसेज के विषयों में ग्रेजुएशन कर सकते हैं। इसके अलावा अगर क्रिएटिव फील्ड्स में आपकी रुचि हो तो डिजाइनिंग, फैशन कम्युनिकेशन, होटल मैनेजमेंट, फैशन डिजाइनिंग, मीडिया, पीआर, मैनेजमेंट जैसे सब्जेक्ट्स के साथ लॉ, काउंसलिंग, साइकोलॉजी, स्पेशल एजुकेशन जैसे दूसरे बहुत से सब्जेक्ट्स में आप ग्रेजुएशन कर सकते हैं।
  • बहुत बड़ा है आर्ट्स सब्जेक्ट्स का स्कोप 
  • इंटरडिसिप्लिनरी स्टडीज में आर्ट्स के स्टूडेंट्स के लिए कई ऑप्शंस मौजूद
  • पढ़ाई और करियर के लिए एक अच्छी प्लानिंग करनी होगी
इससे साफ है कि आर्ट्स के साथ 12वीं करने वाले स्टूडेंट्स के लिए भी ब्राइट करियर्स के कई विकल्प मौजूद हैं। बस आपको ध्यान रखना होगा कि आगे की पढ़ाई और करियर के लिए एक अच्छी प्लानिंग करनी होगी। आप चाहें तो इसके लिए किसी प्रोफेशनल करियर काउंसलर की मदद भी ले सकते हैं।

कॉमर्स के साथ बढ़ाएं करियर : अगर आपने कॉमर्स सब्जेक्ट लिया है तो आपके पास भी करियर के शानदार विकल्प मौजूद होते हैं बीकॉम, इकोनॉमिक्स, स्टैटिसटिक्स, इंटीग्रेटेड, लॉ, एजुकेशन, इंटीग्रेटेड प्रोग्राम्स, इंश्योरेंस और रिटेल से जुड़े हुए डिप्लोमा और डिग्री प्रोग्राम्स में एडमिशन लेकर अकाउंटेंसी कंपनी सेक्रेटरी आदि विषयों में करियर बना सकते हैं।

कॉमर्स के स्टूडेंट्स अगर बिजनेस मैनेजमेंट या रिटेल, ई-कॉमर्स, सेल्स जैसे सब्जेक्ट्स में आगे का रुख करते हैं तो उनके लिए बहुत शानदार हो सकता है। कॉमर्स में ग्रेजुएशन से पहले भी आप अपने लिए किसी स्पेशलाइजेशन वाले करियर फील्ड को चुन सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि 12वीं में ही यहां आप अपने रुझान के विषय में आगे बढ़ने की सोच सकते हैं कि आप टैक्स, मैनेजमेंट, ई-कॉमर्स, कंपनी लॉ या फिर किस तरफ आगे की पढ़ाई करेंगे।
  • कॉमर्स के बाद भी इंटरडिसिप्लिनरी स्टडीज में अच्छे अवसर मौजूद हैं
  • कॉर्पोरेट लॉ, टैक्सेशन, कंपनी सेक्रेटरीशिप, मैनेजमेंट जैसे सब्जेक्ट्स में कॉमर्स स्टूडेंट्स के लिए अच्छे अवसर मौजूद
  • कई मैनेजमेंट इंस्टिट्यूट्स में फाइव इयर्स इंटिग्रेटेड मॉस्टर्स प्रोग्राम्स के ऑप्शंस मौजूद
और आखिर में... आप 12वीं के बाद किसी भी तरह के कोर्स में एडमिशन लें, किसी भी संस्थान में हायर एजुकेशन के लिए जाएं लेकिन डिग्री की मान्यता, देश-विदेश में संस्थान की रैंकिंग, वहां का इन्फ्रास्ट्रक्चर, फैकल्टी और ओवरऑल रेप्यूटेशन को जरूर जांच लें। कई बार ऐसा होता है कि ज्यादातर स्टूडेंट्स अपने भविष्य के कोर्सेज और इंस्टिट्यूटस के बारे में सिर्फ इंटरनेट आदि से ही सर्च करते हैं जिसमें अधिकतर चीजें सही नहीं होतीं या उन्हें एक बार जाकर देखना और तसल्ली करना बेहतर होता है।

इस बारे में आप वहां के किसी एल्युमिनी या करियर काउंसलर की सलाह भी ले सकते हैं। कुल मिलाकर देखें तो 12वीं क्लास ही वो स्टेप है जिसे अगर आपने सही ढंग से लिया तो भविष्य में यकीनन आप अपने ड्रीम करियर को हासिल कर सकते हैं।
ये भी पढ़ें
PM मोदी ने विश्व स्तरीय रेलवे स्टेशन और सुविधाओं की सौगात दी, सीहोर से शामिल हुए CM मोहन यादव