3 घंटे तक भारत-पाक की दुनिया थमी

भाषा|
(वेबदुनिया न्यूज)
भारत ने ट्‍वेंटी-20 विश्व कप 5 रनों से जीत लिया। सनसनीखेज और रोमांच से भरपूर फाइनल मुकाबले में उसने पाकिस्तान को 5 रनों से हराया। भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 157 रन बनाए। जवाब में पाकिस्तान की टीम 19.3 ओवरों में 152 रनों पर धराशायी हो गई। इस मैच से ऐसा लगा मानो 3 घंटे तक भारत और पाकिस्तान की दुनिया ही थम गई थी।

पाक को 6 गेंदों में 13 रन की जरूरत थी। जोगिन्दर शर्मा के ओवर की दूसरी गेंद पर मिस्बाह ने छक्का लगाकर मैच को रोमांचक बना दिया था। पाक को 4 गेंदों में जीत के लिए 6 रन चाहिए थे, लेकिन अगली गेंद पर मिस्बाह कैच आउट हो गए। इस तरह भारत 5 रन से मैच जीतने में सफल रहा। मिस्बाह ने 38 गेंद पर 43 रन बनाए।
बॉलिवुड के किंग खान (शाहरुख) अपने बेटे के साथ स्टेडियम में क्रिकेट के इस रोमांचक मुकाबले का लुत्फ उठाया। इरफान पठान ने अपने 4 ओवरों में 16 रन देकर 3 विकेट प्राप्त किए। एक शानदार गेंदबाजी की नुमाइश पठान ने यहाँ पेश की।

पाकिस्तान का पहला विकेट पहले ओवर में ही आउट हुआ। आरपी सिंह की गेंद पर हफीज (1) को रॉबिन उथप्पा ने लपका। दूसरा विकेट भी आरपी के हिस्से में ही गया। अकमल खाता भी नहीं खोल सके थे कि आरपी ने उनके डंडे बिखेर दिए। छठे ओवर में तीसरे विकेट के रूप में इमरान नजीर (14 गेंद, 4 चौके, 2 छक्के, 33 रन) को रॉबिन उथप्पा ने रन आउट किया।
यूनुस खान (24) जब चौथे विकेट के रूप में आउट हुए तब नौवाँ ओवर जारी था और पाकिस्तान का स्कोर 65 पर पहुँचा था। जोगिन्दर की गेंद पर यूनुस छक्का लगाने गए, लेकिन मिस टाइम होने के कारण यूनुस पठान ने कैच लपकने में कोई गलती नहीं की।

पाँचवें विकेट के लिए शोएब मलिक 8 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें पठान की गेंद पर रोहित शर्मा ने लपका। पठान के इसी ओवर (12) में अफरीदी (0) को श्रीसंथ ने लपककर पाकिस्तान को छठा सदमा दिया।
पाकिस्तान का सातवाँ विकेट 104 रनों पर यासिर अराफात (15) का गिरा। उन्हें इरफान पठान ने बोल्ड कर दिया। आठवें विकेट के रूप में सोहेल तनवीर (12) आउट हुए। श्रीसंथ ने उनके डंडे बिखेरे।

उमर गुल (0) नौवे विकेट के रूप में आउट हुए। आरपी सिंह की गेंद को गुल समझ ही नहीं पाए और बोल्ड हो गए। पाकिस्तान की पारी 152 पर उस वक्त धराशायी हो गई, जब अंतिम विकेट मिस्बाह उल हक का गिरा। मिसबाह ने काफी संघर्ष किया और 38 गेंदों पर 43 रन बनाए। उन्हें जोगिन्दर शर्मा की गेंद पर श्रीसंथ ने लपका।
इससे पूर्व भारत ने 5 विकेट खोकर 157 रन एकत्र किए थे। पाकिस्तान की तरफ से उमर गुल ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 28 रन देकर तीन विकेट लिए। पूरे मैच में पाकिस्तानी खिलाड़ियों का क्षेत्ररक्षण देखते ही बनता था। भारत की ओर से 13 चौके और 4 छक्के लगाए गए।

भारत ने पहला विकेट यूसुफ पठान का गँवाया। 25 रन के कुल स्कोर पर मोहम्मद आसिफ की गेंद पर छक्का लगाने के प्रयास में पठान शोएब मलिक द्वारा कैच आउट हुए।
भारत का स्कोर जब 42 पर पहुँचा, तब दूसरा विकेट रॉबिन उथप्पा का आउट हुआ। सोहेल तनवीर की गेंद पर उथप्पा (8) को अफरीदी ने लपका।

तीसरे विकेट के रूप में युवराजसिंह आउट हुए। उमर गुल की गेंद को युवराज ठीक से पढ़ नहीं सके और छक्का लगाने की कोशिश में बॉल खड़ी हो गई। गुल ने कैच लपकने में कोई कोताही नहीं बरती। इस तरह 103 पर तीसरा विकेट पैवेलियन लौटा। युवराज ने 19 गेंदों पर केवल 14 रन ही बनाए।
भारत ने चौथा विकेट महेन्द्रसिंह धोनी का गँवाया। 10 गेंदों पर 6 रन बनाने वाले धोनी को उमर गुल ने 16वें ओवर में बोल्ड किया। 130 के कुल स्कोर पर पाँचवाँ विकेट आउट हुआ। गौतम गंभीर 54 गेंदों पर 75 रन बनाकर आउट हुए।



और भी पढ़ें :