मुंबई इंडियन्स की जीत से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की हुई चांदी, पहुंची प्लेऑफ में

पुनः संशोधित रविवार, 22 मई 2022 (00:03 IST)
हमें फॉलो करें
मुंबई इंडियन्स की दिल्ली पर 5 विकेट से जिस टीम का सबसे ज्यादा फायदा हुआ वह टीम रही। दिल्ली को हराकर मुंबई ने उसे 14 अंको पर ही रोके रखा और बैंगलोर 16 अंको के साथ में पहुंच गई।
जसप्रीत बुमराह के तीन विकेट समेत अपने गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन की मदद से ने को शनिवार को आखिरी लीग मैच में पांच विकेट से हराकर टूर्नामेंट से बाहर कर दिया जबकि रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने प्लेआफ में जगह बना ली।

मुंबई प्लेआफ की दौड़ से पहले ही बाहर हो चुकी थी। पहले गेंदबाजी के कप्तान रोहित शर्मा के फैसले को सही साबित करते हुए मुंबई के गेंदबाजों ने दिल्ली को सात विकेट पर 159 रन पर रोक दिया । बुमराह ने चार ओवर में 25 रन देकर तीन विकेट चटकाये । जवाब में मुंबई के बल्लेबाजों ने पांच गेंद बाकी रहते लक्ष्य हासिल कर लिया।

ईशान किशन ने 48 और डेवाल्ड ब्रेविस ने 37 रन बनाये जबकि टिम डेविड ने 11 गेंद में 34 रन की पारी खेली। तिलक वर्मा ने 17 गेंद में 21 रन बनाये।मुंबई का स्कोर 14 . 3 ओवर में तीन विकेट पर 95 रन था । उस समय दिल्ली के कप्तान ने भारी चूक की जब डेविड पहली ही गेंद पर आउट थे लेकिन मैदानी अंपायर ने उन्हें आउट नहीं दिया और पंत ने डीआरएस का इस्तेमाल नहीं किया।
डेविड ने इसके बाद चौकों छक्कों की बौछार करके लक्ष्य 14 गेंद में 15 रन कर दिया। रमनदीप ने छह गेंद में 13 रन बनाकर अपना योगदान दिया।दिल्ली 14 अंक लेकर तालिका में पांचवें स्थान पर रही जबकि आरसीबी 16 अंक के साथ प्लेआफ में पहुंच गई। गुजरात टाइटंस, राजस्थान रॉयल्स और लखनऊ सुपर जाइंट्स प्लेआफ में पहले ही पहुंच चुके हैं।

इससे पहले दिल्ली का स्कोर एक समय 8.4 ओवर में चार विकेट पर 50 रन था लेकिन रोवमैन पॉवेल ने 34 गेंद में 43 और कप्तान ऋषभ पंत ने 33 गेंद में 39 रन बनाकर पारी को संभाला।दोनों ने 44 गेंद में 75 रन की साझेदारी करके टीम को संकट से निकाला । मुंबई के लिये रमनदीप सिंह ने दो ओवर में 29 रन देकर दो विकेट चटकाये।

टायफाइड से उबरकर वापसी करने वाले दिल्ली के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी
शॉ फॉर्म में दिख रहे थे। उन्होंने डेनियल सैम्स को चौका और छक्का जड़ा। सैम्स ने हालांकि मुंबई को पहली सफलता दिलाई जब डेविड वॉर्नर शॉर्ट थर्डमैन पर खड़े बुमराह को कैच दे बैठे।

बुमराह ने मिशेल मार्श को रोहित शर्मा के हाथों लपकवाया। इसके बाद एक कठिन बाउंसर पर

शॉ का विकेट लिया। मयंक मार्कंडेय ने सरफराज खान को आफ स्टम्प से बाहर जाती गेंद पर लौटाया जिससे नौवे ओवर में दिल्ली का स्कोर चार विकेट पर 50 रन था।रितिक शोकीन और मयंक ने अच्छे तालमेल के साथ गेंदबाजी की। दिल्ली के दस ओवर में चार विकेट पर 55 रन ही बने थे।

पंत ने ऐसे में पारी के सूत्रधार की भूमिका निभाई और पॉवेल ने 12वें ओवर में शोकीन को दो छक्के और एक चौका लगाकर 20 रन निकाले। अगले ओवर में उन्होंने मयंक को छक्का जड़ा। मुंबई का क्षेत्ररक्षण भी आखिर में ढीला हो गया जब तिलक वर्मा और बुमराह ने आसान चौके जाने दिये।
रिले मेरेडिथ ने ऐसे में एक किफायती ओवर डालकर दो ही रन दिये। रोहित ने रमनदीप को फिर गेंद सौंपी जिसने तीन वाइड डाली और एक छक्का तथा एक चौका दे डाला।पॉवेल ने बुमराह को डीप स्क्वेयर लेग पर छक्का जड़ा जबकि अक्षर पटेल ने सैम्स की गेंद को सीमारेखा के पार पहुंचाया।



और भी पढ़ें :