IPL 2021: राजस्थान ने कोलकाता को 6 विकेट से हराया

Last Updated: रविवार, 25 अप्रैल 2021 (00:14 IST)
क्रिस मॉरिस(23 रन पर चार विकेट) की अगुवाई में गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बाद कप्तान की नाबाद 42 रन की संयमित पारी से ने शनिवार को यहां इंडियन प्रीमियर लीग टी20 मुकाबले में (केकेआर) को छह विकेट से हराकर सत्र की दूसरी जीत दर्ज की।

तालिका में नीचले पायदान पर काबिज दो टीमों के इस मुकाबले में राजस्थान की टीम मैच के शुरू से हावी रही। उसने केकेआर की पारी को नौ विकेट पर 133 रन पर रोकने के बाद 18.5 ओवर में चार विकेट गंवा कर लक्ष्य हासिल कर लिया।इस जीत से राजस्थान की टीम चार अंक के साथ तालिका में छठे स्थान पर पहुंच गयी जबकि केकेआर लगातार चौथी हार के बाद दो अंक के साथ सबसे नीचे आठवें स्थान पर पहुंच गया।

सैमसन ने 41 गेंद की नाबाद पारी में दो चौके और एक छक्का जड़ा। उन्हें डेविड मिलर का अच्छा साथ मिला जिन्होंने 23 गेंद की नाबाद पारी में तीन चौको की मदद से 24 रन बनाये। यशस्वी जायसवाल और शिवम दुबे ने 22-22 रन का योगदान दिया।
इससे पहले मैन ऑफ द मैच मॉरिस ने 4 ओवर में 23 रन देकर चार विकेट झटके जबकि जयदेव उनदकट, चेतन सकारिया और मुस्ताफिजूर रहमान को एक-एक सफलता मिली।केकेआर के लिए राहुल त्रिपाठी ने सबसे ज्यादा 36 रन का योगदान दिया। उन्होंने 26 गेंद की पारी में दो छक्के और एक चौका लगाया।
लक्ष्य का पीछा करने उतरे राजस्थान के सलामी बल्लेबाज जायसवाल को पहले ओवर में ही जीवनदान मिला। शिवम मावी की गेंद पर शुभमन गिल ने उनका कैच टपका दिया। जायसवाल ने पैट कमिंस के खिलाफ अगले ओवर में लगातार दो चौके लगाये।

इसी ओवर की पांचवीं गेंद पर कमिंस का बाउंसर जोस बटलर (05) के हेलमेट से टकरा गया। कमिंस ने तुरंत बटलर के पास पहुंच कर उनका हाल-चाल जाना, इसके बाद राजस्थान के फिजियो भी मैदान पर आये और उनके देखने के बाद बटलर ने बल्लेबाजी जारी रखी।

केकेआर के कप्तान मोर्गन ने चौथे ओवर में गेंद वरूण चक्रवर्ती को थमाई और इस स्पिनर ने पहली गेंद पर चौका खाने के बाद दूसरी गेंद पर बटलर को पगबाधा कर दिया।मावी ने पारी के पांचवे ओवर में जायसवाल को चलता किया। उन्होंने 17 गेंद में 22 रन बनाये। शिवम दुबे ने इसके बाद सुनील नारायण के खिलाफ छक्का जड़ा जिससे पावर प्ले के बाद राजस्थान का स्कोर दो विकेट पर 50 रन हो गया।

सैमसन ने नौवें ओवर में कमिंस के खिलाफ बड़ा छक्का जड़ा। दुबे ने 11वें ओवर में चक्रवर्ती के खिलाफ चौका लगाया लेकिन एक गेंद के बाद प्रसिद्ध कृष्णा को कैच थमा बैठे।गिल ने 13वें ओवर की चक्रवर्ती की गेंद पर राहुल तेवतिया को जीवन दान दिया। तेवतिया हांलाकि इसका फायदा उठाने में नाकाम रहे और अगले ओवर में प्रसिद्ध कृष्णा की गेंद पर बड़ा शॉट लगाने के चक्कर में स्थापन्न खिलाड़ी कमलेश नागरकोटी को कैच थमा बैठे।

मिलर ने इसके बाद 16वें ओवर में प्रसिद्ध कृष्णा की गेंद पर चौका जड़ा लेकिन नारायण ने सैमसन को रन आउट करने का आसान मौका गंवा दिया। मिलर ने 18वें ओवर में इसी गेंदबाज के खिलाफ एक और चौका लगाकर मैच का रूख पूरी तरह से राजस्थान की ओर मोड़ दिया।सैमसन ने 19वें ओवर की पांचवीं गेद पर एक रन लेकर राजस्थान को जीत दिला दी।
इससे पहले बल्लेबाजी का आमंत्रण मिलने के बाद त्रिपाठी के अलावा केकेआर का कोई भी बल्लेबाज सहज होकर नहीं खेल सका।शुरूआती दो ओवरों के किफायती रहने के बाद नीतिश राणा ने तीसरे ओवर में जयदेव उनादकट की गेंद पर पारी का पहला चौका लगाया तो वही अगले ओवर में गिल ने मुस्ताफिजूर की गेंद को बाउंड्री पर पहुंचाया। इसके दो गेंद के बाद जायसवाल ने गिल का कैच टपका दिया।

गिल हालांकि इसका फायदा उठाने में नाकाम रहे और छठे ओवर में एक रन चुराने की कोशिश में रन आउट हो गये। बटलर की सीधी थ्रो ने उनकी 19 गेंद में 11 रन की पारी को खत्म किया। पावर प्ले में केकेआर एक विकेट पर महज 25 रन ही बना सका।

राहुल त्रिपाठी ने क्रीज पर कदम रखते हुए उनादकट के खिलाफ अपनी पहली गेंद पर चौका जड़ा तो वही इस ओवर की आखिरी गेंद पर राणा ने पारी का पहला छक्का लगाया।नौवें ओवर में गेंदबाजी के लिए आये सकारिया ने विकेटकीपर सैमसन के हाथों कैच कराकर राणा को चलता कर दिया। उन्होंने 25 गेंद में 22 रन बनाये। इसके बाद बल्लेबाजी के लिए आये नारायण ने अपनी पहली गेंद पर ही चौका जड़ा।

उनादकट ने हालांकि नारायण को खतरनाक होने से पहले ही पवेलियन की राह दिखा दी। नारायण उनकी धीमी गेंद को पढ़ने में नाकाम रहे और जायसवाल ने शानदार कैच लपक कर सात गेंद में छह रन की उनकी पारी को खत्म किया। केकेआर ने 10 ओवर में तीन विकेट 53 रन बना लिये।

त्रिपाठी ने 11वें ओवर में मैरिस के दूसरे स्पैल का स्वागत फाइन लेग के ऊपर से छक्के के साथ किया। अगली ही गेंद पर कप्तान स्ट्राइक पर आये बिना दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से रन आउट हो गये। त्रिपाठी ने शानदार स्ट्रेट ड्राइव लगाया लेकिन गेंद मोर्गन के बल्ले से टकरा कर मैरिस के पास चली गयी और उन्होंने गिल्लियां बिखेरने में देरी नहीं की।
त्रिपाठी ने इसके बाद 12वें ओवर में तेवतिया का स्वागत भी छक्के के साथ किया जबकि दिनेश कार्तिक ने उनके अगले ओवर में अपना पहला चौका जड़ा। मुस्ताफिजूर ने इसके बाद 16वें ओवर में धीमी गेंद पर त्रिपाठी को फंसा लिया। वह बड़ा शॉट लगाने के चक्कर में रियान पराग को कैच थमा बैठे।

आंद्रे रसेल (सात गेंद में नौ रन) ने मौरिस के खिलाफ 17वें ओवर में छक्का जड़कर अपना हाथ खोला लेकिन इसके दो गेंद बाद लांग ऑन बाउंड्री पर डेविड मिलर को कैच थमा बैठे। इसी ओवर में सकररिया ने कार्तिक का शानदार कैच लपक कर 24 गेंद में उनकी 25 रन की पारी को खत्म किया।

कमिंस (10) ने 20वें ओवर की पहली गेंद पर मौरिस के खिलाफ छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद पर ही पराग को कैच थमा बैठे। मौरिस ने पारी की आखिरी गेंद पर शिवम मावी (05) को बोल्ड कर चौथी सफलता हासिल की।(भाषा)



और भी पढ़ें :