IPL 2021: पृथ्वी के शो से शिखर पर दिल्ली, चेन्नई को 7 विकेट से दी मात

Prithvi Shaw
Last Updated: शनिवार, 10 अप्रैल 2021 (23:46 IST)
सलामी बल्लेबाजों (85) के शानदार अर्धशतक और उनकी पृथ्वी शॉ (72) के साथ 138 रन की ओपनिंग साझेदारी की बदौलत गत उपविजेता ने चेन्नई सुपरकिंग्स को शनिवार को आईपीएल 14 के मुकाबले में शनिवार को एकतरफा अंदाज में 7 विकेट से पीट दिया।
पिछले सत्र से बाहर रहने वाले बाएं हाथ के बल्लेबाज सुरेश रैना की 54 रन की आतिशी पारी और सैम करेन की 34 रन की तूफानी पारी से चेन्नई सुपरकिंग्स ने वानखेड़े स्टेडियम में 20 ओवर में सात विकेट पर 188 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया जबकि दिल्ली ने 18.4 ओवर में तीन विकेट पर 190 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की।

दिल्ली के दोनों सलामी बल्लेबाजों ने धाकड़ अंदाज में बल्लेबाजी की और चेन्नई के हर गेंदबाज की वानखेड़े स्टेडियम में जमकर पिटाई की। दोनों के बीच 138 रन की ओपनिंग साझेदारी 13.3 ओवर में बन गयी। इस साझेदारी में पृथ्वी ने 38 गेंदों पर 72 रन में नौ चौके और तीन छक्के लगाए। पृथ्वी को ड्वेन ब्रावो ने मोईन अली के हाथों कैच कराया। शिखर ने फिर अपने कप्तान के साथ दूसरे विकेट के लिए 29 रन जोड़े।

शिखर जब अपने शतक से मात्र 15 रन दूर थे कि शार्दुल ठाकुर की गेंद पर पगबाधा हो गए। शिखर ने 54 गेंदों पर 85 रन में 10 चौके और दो छक्के लगाए। शिखर अपनी इस पारी के साथ आईपीएल में चेन्नई टीम के खिलाफ सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए। शिखर ने चेन्नई के खिलाफ भारतीय कप्तान विराट कोहली का 901 रन का रिकॉर्ड तोड़ दिया।
कप्तान पंत ने मात्र 12 गेंदों में नाबाद 15 रन बनाये जबकि मार्कस स्टोइनिस ने नौ गेंदों पर तीन चौकों के सहारे 14 रन बनाये। स्टोइनिस तीसरे बल्लेबाज के रूप में टीम के 186 के स्कोर पर ठाकुर का दूसरा शिकार बने। पंत ने चौका मारकर मैच समाप्त किया और अपने आदर्श धोनी को आईपीएल के अपने पहले मुकाबले में शिकस्त दे दी।
चेन्नई ने टॉस गंवाने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए अपने पहले दो विकेट मात्र सात रन पर गंवा दिए लेकिन इसके बाद सुरेश रैना ने आतिशी अर्धशतकीय पारी खेलकर चेन्नई को चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचाया। पारी के दूसरे ही ओवर में पर फाफ दू प्लेसिस खाता खोले बिना तेज गेंदबाज आवेश खान की चौथी गेंद पर पगबाधा हो गए।

पारी के तीसरे ओवर में रुतुराज गायकवाड पांच रन बनाकर क्रिस वोक्स की गेंद पर पहली स्लिप में शिखर धवन को कैच दे बैठे। इन दो विकेट के गिर जाने के बाद रैना और मोईन अली ने तीसरे विकेट के लिए 53रन की शानदार साझेदारी की। अली फिर ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर रिवर्स शॉट खेलने की कोशिश में गेंद को ऊंचा खेल गए और शिखर ने आसान कैच लपक लिया। अली ने 24 गेंदों पर 36 रन में चार चौके और दो छक्के लगाए।

अली का विकेट गिर जाने के बाद रैना और अंबाटी रायुडू ने फिर चौथे विकेट के लिए 63 रन की बेहतरीन साझेदारी की। रैना ने बॉउंड्री लगाकर अपना अर्धशतक पूरा किया। रायुडू ने टॉम करेन की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में शिखर धवन को सीधा कैच पकड़ाया। रायुडू ने 16 गेंदों पर 23 रन में एक चौका और दो छक्के लगाए।

रायडू के आउट होने के बाद रैना टीम के 137 के स्कोर पर दूसरा रन चुराने की कोशिश में रन आउट हो गए। रैना ने 36 गेंदों पर 54 रन में तीन चौके और चार छक्के लगाए। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ज्यादा देर तक नहीं चले और आवेश खान की दूसरी ही गेंद पर शाट खेलने की कोशिश में गेंद को स्टंप्स पर खेलकर खाता खोले बिना बोल्ड हो गए। हालांकि इसके बाद उतरे सैम करेन ने रवींद्र जडेजा के साथ अंतिम ओवरों में बड़े चौके छक्के लगाए और टीम के स्कोर को 188 रन तक ले गए। वह पारी की आखिरी गेंद पर बोल्ड हुए।

सैम करेन ने मात्र 15 गेंदों पर 34 रन में चार चौके और दो छक्के लगाए जबकि जडेजा 17 गेंदों पर तीन चौकों के सहारे 26 रन बनाकर नाबाद पवेलियन लौटे। दिल्ली की तरफ से क्रिस वोक्स ने 18 रन देकर दो विकेट और आवेश खान ने 23 रन पर दो विकेट निकाले।(वार्ता)



और भी पढ़ें :