IPL 13: CSK कप्तान धोनी बोले, हमने छोटी-छोटी चीजों को सही किया, उम्मीद है कि लय कायम रहेगी

ms dhoni
Last Updated: सोमवार, 5 अक्टूबर 2020 (14:56 IST)
दुबई। पिछले मैचों में हार के दौरान छोटी-छोटी चीजों को बेहतर करने पर जोर देने वाले चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने किंग्स इलेवन के खिलाफ के बाद कहा कि उनकी टीम छोटी-छोटी चीजों को सही करने में सफल रही।
ALSO READ:
IPL-13 : वॉटसन और प्लेसिस की विजयी पारी से एमएस धोनी के लबों पर आई मुस्कान
अंक तालिका में निचले पायदान पर चल रहीं 2 टीमों की जंग में चेन्नई सुपरकिंग्स ने रविवार को 179 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए फाफ डु प्लेसिस (नाबाद 87) और शेन वॉटसन (नाबाद 83) के बीच पहले विकेट की 181 रनों की अटूट साझेदारी की बदौलत 17.4 ओवर में बिना विकेट खोए 181 रन बनाकर जीत दर्ज की। वॉटसन ने 53 गेंदों की अपनी पारी में 3 छक्के और 11 चौके मारे जबकि डु प्लेसिस ने 53 गेंदों का सामना करते हुए 11 चौके और 1 छक्का जड़ा।
धोनी ने अपनी टीम की एकतरफा जीत के बाद कहा कि मुझे लगता है कि हमने छोटी-छोटी चीजों को सही किया। बल्लेबाजी में हमें जिस शुरुआत की जरूरत थी, हमें वह शुरुआत मिली। उम्मीद करते हैं कि आगामी मैचों में हम इसे दोहराने में सफल रहेंगे।
आक्रामक बल्लेबाजी करने वाले वॉटसन की पारी के संदर्भ में धोनी ने कहा कि यह सिर्फ अधिक आक्रामक होना नहीं है। वह (वॉटसन) नेट पर गेंद को काफी अच्छी तरह हिट कर रहा था और आपको इसे पिच पर दोहराना होता है। यह समय-समय की बात है। फाफ हमारे लिए एंकर की भूमिका निभाता है और बीच के ओवरों में अच्छे शॉट खेलता है। वह लैप शॉट के साथ हमेशा गेंदबाज को भ्रम में डालता है। धोनी ने कहा कि पंजाब की टीम को कम स्कोर पर रोकना महत्वपूर्ण रहा।
उन्होंने कहा कि पहले 3-4 मैच देखने के बाद मुझे लगा कि अगर आप उन्हें कम स्कोर पर रोकते हों तो उन पर दबाव डाल सकते हो। सभी टीमों के पास आक्रामक बल्लेबाज हैं, जो गेंदबाजी को ध्वस्त कर सकते हैं और हमारे गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया।

पंजाब की टीम की यह लगातार तीसरी और 5 मैचों में चौथी हार है जिससे टीम अंतिम स्थान पर खिसक गई और इससे कप्तान लोकेश राहुल काफी निराश दिखे। मैच में पंजाब की ओर से सर्वाधिक 63 रन बनाने वाले राहुल ने कहा कि इतने सारे मैचों में हार का सामना करना निराशाजनक है। हमें कड़ा प्रयास करते रहना होगा। इसमें कोई रॉकेट विज्ञान नहीं है, हमें पता है कि हम कहां गलती कर रहे हैं। हम योजनाओं को अमलीजामा पहनाने में नाकाम हो रहे हैं। उम्मीद करते हैं कि हम सबक सीखेंगे और वापसी करेंगे।
टीम के स्कोर के संदर्भ में राहुल ने कहा कि मैंने सोचा था कि 178 रन का स्कोर अच्छा रहेगा। जब हमने बल्लेबाजी शुरू की तो गेंद थोड़ा रुककर आ रही थी। हमने सोचा कि 170 से 180 प्रतिस्पर्धी स्कोर होगा लेकिन हमें पता था कि अगर हम विकेट नहीं लेंगे तो इन स्तरीय खिलाड़ियों के खिलाफ हमें जूझना होगा।

'मैन ऑफ द मैच' चुने गए वॉटसन ने कहा कि यह पारी खेलना अच्छा रहा। यह तकनीक और जज्बे का संयोजन रही। गेंद का काफी बेहतर तरीके से सामना कर पाए। हम एक-दूसरे का अच्छा साथ निभाते हैं। कुछ गेंदबाज हैं जिनका सामना करने को वह (डु प्लेसिस) प्राथमिकता देता है। वह अच्छा खिलाड़ी है और उसके साथ बल्लेबाजी करके अच्छा लगता है।
डु प्लेसिस ने कहा कि हां, हमने अच्छा प्रदर्शन किया। मुझे लगता है कि मेरे लिए बड़ी चीज यह है कि मैं अंत तक टिका रहा। मेरा ध्यान इसी चीज पर है कि मैं अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने का प्रयास करूं। अच्छा रहा कि हम आज रात अच्छी साझेदारी करने में सफल रहे। मुझे लगता है कि पिछले मैच में हमारी गेंदबाजी काफी अच्छी थी, हमारी टीम का संतुलन बेहतर था लेकिन हमने बल्लेबाजी अच्छी नहीं की। (भाषा)



और भी पढ़ें :