BCCI की नई Guidelines: IPL-13 में मीडिया को स्टेडियम में जाने की अनुमति नहीं

IPL Logo
Last Updated: शुक्रवार, 18 सितम्बर 2020 (20:57 IST)
दुबई। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) ने शुक्रवार को कहा कि कोविड-19 महामारी (Covid-19 Epidemic) को देखते हुए लगाए गए सख्त स्वास्थ्य सुरक्षा प्रोटोकॉल के कारण इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें चरण में मीडियाकर्मियों को स्टेडियम में जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। शुक्रवार देर शाम ने (Guidelines) जारी की है। का पहला मैच शनिवार को शाम 7:30 बजे से मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला जाएगा।
पता चला है कि यह पहला चरण होगा, जिसमें फ्रेंचाइजी को मैच से पूर्व प्रेस कांफ्रेंस कराने की जरूरत नहीं होगी। हालांकि प्रत्येक मैच के बाद वर्चुअल मीडिया कांफ्रेंस कराना अनिवार्य होगा।
ALSO READ:
2020 : रोहित और धोनी की टक्कर से शुरू होगी की जंग, जानिए कौन किस पर भारी?
स्टेडियम में प्रवेश पर प्रतिबंध : बीसीसीआई ने मीडिया विज्ञप्ति में कहा, ‘ड्रीम11 इंडियन प्रीमियर लीग 2020 कोविड-19 महामारी के कारण (UAE) में बंद स्टेडियम में आयोजित की जा रही है। स्वास्थ्य और सुरक्षा प्रोटोकॉल को देखते हुए मीडिया कर्मियों को मैच कवर करने के लिए या टीम के अभ्यास सत्र को कवर करने के लिए स्टेडियम में अंदर जाने की अनुमति नहीं होगी।’
मैच के बाद वर्चुअल प्रेस काफ्रेंस : इसके अनुसार, ‘साथ ही इस साल परिस्थितियों को देखते हुए मीडिया को छोड़कर कोई भी नया मीडिया पंजीकरण नहीं होगा।’ इसमें कहा गया, ‘बीसीसीआई लीग में दिलचस्पी के स्तर को समझता है इसलिए प्रत्येक मैच के बाद मीडिया को वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस की सुविधा मुहैया कराएगा।’
ALSO READ:: CSK के पास स्पिन में विविधता, की परिस्थितियों में मिलेगा फायदा
जो पत्रकार इस समय बीसीसीआई से पंजीकृत हैं, वे प्रत्येक मैच से पहले और बाद में प्रेस विज्ञप्ति और नियमित अपडेट प्राप्त करते रहेंगे। इन प्रेस विज्ञप्ति में मैच के बाद वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस से जुड़ने की और मैच के दिनों के दौरान टीम प्रतिनिधियों को सवाल भेजने की प्रक्रिया की जानकारी होगी।
प्रत्येक मैच के 35 फोटो होंगे उपलब्ध : बीसीसीआई इन मान्यता प्राप्त मीडिया को प्रत्येक मैच के 35 फोटो भी मुहैया कराएगा और ऐसा पूरे टूर्नामेंट के दौरान रहेगा। यह पिछले वर्षों की तुलना में ज्यादा फोटो हैं। विज्ञप्ति के अनुसार, ‘फोटो को संपादकीय उद्देश्य के लिए ही इस्तेमाल किया जाना चाहिए और प्रत्येक मंच पर BCCI/IPL को श्रेय देना होगा।’ (भाषा)



और भी पढ़ें :