भारत को कश्मीर में 'जनमत संग्रह' कराना चाहिए : नवाज शरीफ

इस्लामाबाद| पुनः संशोधित बुधवार, 20 जुलाई 2016 (16:42 IST)
हमें फॉलो करें
इस्लामाबाद। घाटी के लोगों के प्रति एकजुटता व्यक्त करने के लिए 'काला दिवस' मनाए जाने के साथ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने बुधवार को कहा कि कश्मीर भारत का अंदरुनी मामला नहीं है और कश्मीरियों के अधिकारों का सम्मान करते हुए वहां कराया जाना चाहिए।
अपने संदेश में शरीफ ने कहा कि कश्मीरियों के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए बुधवार को हम मना रहे हैं और विश्व को एक बड़ा संदेश दे रहे हैं कि पाकिस्तानी अधिकारों को हासिल करने के उनके (कश्मीरियों) संघर्ष में उनके साथ हैं। 
 
उन्होंने कहा कि भारत ताकत के दम पर कश्मीरियों की आवाज को नहीं दबा सकता और आखिरकार उन्हें स्वतंत्रता मिलेगी। संयुक्त राष्ट्र ने कश्मीर को एक विवादित क्षेत्र घोषित कर रखा है और भारत को कश्मीरियों के अधिकारों का सम्मान करते हुए जनमत संग्रह कराना चाहिए। कश्मीर मुद्दे को भारत का अंदरुनी मामला बताया जाना उचित नहीं है। 
 
शरीफ ने कहा कि अधिकृत क्षेत्र में भारत ने मानवाधिकारों का उल्लंघन किया है, जो विश्व समुदाय के लिए गहरी चिंता का विषय है। उन्होंने पूर्व में सभी संबंधित विभागों से अंतरराष्ट्रीय मंच पर कश्मीर मुद्दा उठाने का निर्देश दिया था। (भाषा) 



और भी पढ़ें :