जयशंकर ने की ब्रिटेन की गृहमंत्री से आव्रजन एवं आवाजाही समझौते पर हस्ताक्षर को लेकर मुलाकात

Last Updated: मंगलवार, 4 मई 2021 (22:25 IST)
लंदन। विदेश मंत्री ने एक नए आव्रजन एवं आवाजाही साझेदारी समझौते पर हस्ताक्षर करने के लिए ब्रिटेन की गृहमंत्री से मंगलवार को लंदन में की। जयशंकर ने कहा कि यह दोनों देशों के बीच मौजूदा संपर्क को मजबूत करेगा।

ALSO READ:
कोविड संकट : टाटा समूह विदेशों से लाएगा 60 क्रायोजेनिक टैंकर, 400 ऑक्सीजन संयंत्र बनाएगा

जयशंकर के अनुसार इस समझौते से कानूनी यात्रा में सुविधा होगी और भारत एवं ब्रिटेन के बीच प्रतिभा प्रवाह को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा कि यह ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बीच मंगलवार को होने वाले ऑनलाइन शिखर सम्मेलन से संबंधित परिणामों में से एक है।
जयशंकर ने ब्रिटेन की मंत्री के साथ अपनी बैठक की तस्वीरों के साथ ट्वीट किया कि गृहमंत्री प्रीति पटेल के साथ मंगलवार सुबह एक उपयोगी बैठक हुई। आव्रजन एवं आवाजाही साझेदारी समझौते पर हस्ताक्षर किए, जो कानूनी यात्रा में सुविधा प्रदान करेगा और प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करेगा।


उन्होंने कहा कि इसके परिणामस्वरूप भारत और ब्रिटेन के बीच मौजूदा संपर्क और मजबूत होगा। हालांकि समझौते का विवरण अभी तक जारी नहीं किया गया है, लेकिन इससे ब्रिटेन आने वाले छात्रों की संख्या बढ़ने की उम्मीद है। ब्रिटेन में अवैध भारतीय प्रवासियों का मुद्दा लंबे समय से द्विपक्षीय वार्ता के एजेंडे में रहा है। दोनों पक्षों में इसकी संख्या को लेकर सहमति नहीं बन पाई है।
ब्रिटेन का कहना है कि देश में लगभग 1,00,000 भारतीय अवैध रूप से रह रहे हैं। भारत ने पूर्व में इस संख्या की सत्यता पर सवाल उठाया है, क्योंकि माना जाता है कि इस आंकड़े में भारतीय उपमहाद्वीप के अन्य हिस्सों से भी नागरिक शामिल हैं। दोनों पक्ष 2018 में इस मुद्दे पर एक समझौते पर हस्ताक्षर करने के करीब थे।

पटेल के साथ जयशंकर की बैठक 'डाउनिंग स्ट्रीट' द्वारा सोमवार को उन्नत व्यापार साझेदारी (ईटीपी) के विवरण का खुलासा करने के बाद हुई है जिस पर सहमति बन गई है और दोनों प्रधानमंत्रियों के बीच इस पर हस्ताक्षर किया जाना है। ब्रिटेन सरकार ने कहा कि उसने भारत के साथ 1 अरब पाउंड के व्यापार और निवेश समझौते को अंतिम रूप दिया है और ईटीपी के तहत 2030 तक ब्रिटेन-भारत के बीच द्विपक्षीय व्यापार को दोगुना करने का महत्वाकांक्षी लक्ष्य रखा जाएगा और व्यापक मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) की दिशा में आगे बढ़ने के प्रयास किए जाएंगे।
जयशंकर मेजबान ब्रिटेन के विदेश मंत्री डॉमिनिक राब के निमंत्रण पर जी-7 के विदेश एवं विकास मंत्रियों की बैठक के लिए लंदन में हैं और वैश्विक लोकतंत्र को खतरों जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर कार्रवाई पर सहमति के लिए अन्य अतिथि राष्ट्रों के नेताओं साथ के साथ मंगलवार शाम में एक कामकाजी रात्रिभोज में शामिल होंगे। (भाषा)



और भी पढ़ें :