उड़ी में 5 दिनों के बाद 3 आतंकी ढेर, कुलगाम में आतंकी ठिकाना तबाह, 4 ओवर ग्राउंड वर्कर गिरफ्त में, पिस्टल और गोला-बारूद बरामद

सुरेश एस डुग्गर| Last Updated: गुरुवार, 23 सितम्बर 2021 (18:32 IST)
जम्मू। में आज कई आतंकी घटनाएं हुईं जिनमें कुल चार आतंकी मारे गए तथा चार ओवर ग्राउंडवर्करों को धर लिया गया। एक आतंकी ठिकाना भी नेस्तनाबूद कर दिया गया।
उड़ी में 3 आतंकी ढेर : सेना ने एलओसी पर उड़ी के पास रामपुर सेक्टर में तीन आतंकियों को ढेर कर दिया है। आतंकी हाल ही में पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर से भारतीय सीमा में आए थे। भारतीय सेना ने ऑपरेशन में मारे गए आतंकियों के पास से पांच एके-47, आठ पिस्तौल और 70 हथगोले बरामद किए हैं। ये आतंकी रविवार को इस ओर घुसे थे और 5 दिनों की जंग के बाद उन्हें ढेर करने में कामयाबी मिली है।
चिनार कोर कमांडर डीपी पांडे ने बताया कि गुरुवार तड़के रामपुर सेक्टर के हाथलंगा जंगल में चहल-पहल देखी गई थी। इसके बाद शुरू किए गए ऑपरेशन में 3 आतंकवादियों को मार गिराने में सफलता मिला। इससे पहले आतंकियों की ओर से 18 सितंबर को भी ऐसा ही प्रयास किया गया था, जिसे विफल कर दिया गया था।
शोपियां में आतंकी ढेर : ओवरग्राउंड वर्कर से हाल ही में आतंकी बने अनायत अशरफ डार को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में मार गिराया। उसे मुठभेड़ में मारने से पहले सुरक्षाबलों ने कई बार आत्मसमर्पण करने का मौका दिया परंतु उसने हथियार डालने से इंकार कर दिया। दक्षिण कश्मीर के जिला शोपियां के केशवा गांव के रहने वाला 18 वर्षीय अनायत गत बुधवार को अपने ही मुहल्ले के एक दुकानदार जीवर हमीद भट को गोली मारकर फरार हुआ था।

दुकानदार गंभीर रूप से घायल है और उसे अस्पताल में उपचाराधीन करवाया गया है। इस हमले के बाद से फरार अनायत की तलाश में सुरक्षाबलों ने रात से ही चित्रीगाम में सर्च ऑपरेशन चलाया हुआ था। कुलगाम में आतंकी ठिकाना फोड़ा: कुलगाम जिले के अहरबल के त्रिनारी वन क्षेत्र में सुरक्षाबलों ने आतंकी ठिकाने का भंडाफोड़ किया है। इस दौरान ने हथियार, गोला-बारूद और खाने का सामान बरामद किया। वहीं इलाके में आतंकियों की तलाश में अभियान शुरू कर दिया गया है।
चार ओवर ग्राउंड वर्कर धरे गए : पुलिस ने उत्तरी कश्मीर के जिला बांडीपोर के हाजिन इलाके से चार ओवरग्राउंड वर्करों को गिरफ्तार किया है। ये लोग लश्कर-ए-तैयबा के लिए काम करते थे और स्थानीय युवाओं को संगठन में शामिल होने के लिए बरगलाते भी थे। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सूचना तंत्रों ने काफी देर पहले पुलिस को यह जानकारी थी कि हाजिन में एक गिरोह लश्कर-ए-तैयबा के लिए काम कर रहा है।

यह गिरोह लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े आतंकियों को हर संभव सहायता उपलब्ध कराने के साथ-साथ उनके लिए युवाओं की भर्ती भी करते हैं। आज जब पुलिस को इस गिरोह के सदस्यों के ठिकाने के बारे में पता चला तो उन्होंने सेना व सीआरपीएफ के जवानों की मदद से हाजिर में एक ठिकाने पर छापा मारा और चारों को गिरफ्तार कर लिया। तलाशी के दौरान ठिकाने से हथियार व संगठन से जुड़े कुछ आपत्तिजनक दस्तावेज भी बरामद हुए हैं।



और भी पढ़ें :