दाढ़ी की वजह से भारतीय मुस्लिम को एयरपोर्ट से लौटाया

नई दिल्ली। में रहने वाले एक भारतीय मूल के मुस्लिम को यूरोपीय देश जॉर्जिया में लंबी दाढ़ी की वजह से एंट्री नहीं दी गई।
 
पीड़ित हाकिमजी के अनुसार वह छुट्टियां बिताने के लिए जॉर्जिया गए थे लेकिन उन्हें एयरपोर्ट से ही वापस लौटा दिया गया क्योंकि उन्होंने दाढ़ी रखी थी। पीड़ित ने इस पर बताया कि वह मुझसे कह रहे थे कि वह सुरक्षा कारणों के चलते मुझे एंट्री नहीं दे रहे। लेकिन मैं यह जानता हूं कि इसकी वजह मेरा दाढ़ी वाला चेहरा ही था। मैं मुस्लिम हूं और धर्म का पालन करता हूं, इसलिए मेरे चेहरे पर बड़ी दाढ़ी है।
 
इसके आगे उन्होंने यह भी बताया कि इस्लामिक न्यू ईयर शुरू होने से पहले दोनों सहकर्मी तीन दिनों की छुट्टी पर 14 अक्टूबर को जॉर्जिया पहुंचे थे। लेकिन वह वापस फ्लाइट का इंतजार करने के दौरान भी एयरपोर्ट अथॉरिटी के एक अधिकारी को मुझ पर नजर रखने के लिए कहा था। हाकिमजी ने कहा कि मैं वॉशरूम जाना चाहता था, लेकिन उन्होंने मुझे इसकी भी अनुमति नहीं दी। ऐसा व्यवहार किया गया, जैसे मैं कोई अपराधी हूं।
 
उनका कहना है कि उनके साथ उनका एक सहकर्मी भी था। वह भी यूएई के ही रेजिडेंट वीजा पर जॉर्जिया आए थे। सिर्फ इतना फर्क था कि उनका मित्र क्लीन शेव था और मैंने दाढ़ी बढ़ा रखी थी। उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट के काउंटर पर जैसे ही एक महिला कर्मी की नजर मुझ पर पड़ी उसने तत्काल दूसरे ऑफिसर को बुलाया और मुझे आखिरी काउंटर पर जाने को कहा।
 
जॉर्जिया के कानून के अनुसार सिर्फ ऐसे व्यक्ति को ही एंट्री देने से रोका जा सकता है, जिसके पास पर्याप्त दस्तावेज न हों, गलत सूचना देकर दस्तावेज बनवाए हों या फिर वह वीजा अवधि खत्म होने के बावजूद ठहरने की योजना बना रहा हो। 
 



और भी पढ़ें :