जलवायु परिवर्तन से बचाव के लिए यूनानी अपना रहे हैं शराब बनाने के पुराने तरीके

पुनः संशोधित रविवार, 22 दिसंबर 2019 (21:09 IST)
फाइल फोटो
थेसालोनिकी (यूनान)। उत्तरी यूनान में अपने परिवार के छोटे से के बगीचे को नई शक्ल देने के 38 वर्ष बाद वेंगलिस गर्वोसिलिओ अपनी उस संपत्ति को बड़े गर्व से देखते हैं, जहां के अंगूर से देश की सबसे प्रसिद्ध बनाई जाती है। यूनान में शराब बनाने वालों ने कहा कि से निपटने के लिए उन्हें अपने आपको के हिसाब से ढालना होगा और इसके प्रभाव से बचने के लिए कार्ययोजना तैयार करनी होगी।
इस व्यापार में 45 साल के बाद गर्वोसिलिओ ने कहा कि सामान्य सी जानकारी से जैसी समस्या से भी निपटा जा सकता है। उन्होंने कहा, यह यूनान के शराब बनाने वालों के लिए अंगूर की असल किस्मों की तरफ लौटने का मौका है और अंगूर उगाने के लिए उपयुक्त जमीन का विकल्प चुनें।
साथ ही उन्होंने कहा कि हाल तक, अंगूरों की बेल हर जगह उगाई जा रही थी। उत्तरी यूनान का ग्रोअर्स बढ़ते के परिणामों को समझने के मामले में राष्ट्र का पहला शहर है। यह देश में शराब बनाने वाले शीर्ष इलाकों में से एक है।

गर्वोसिलिओ ने कहा कि तापमान बढ़ने के चलते अंगूरों के पकने का समय 2 से 3 हफ्ते तक कम हो गया है। उन्होंने कहा कि कुछ अंगूर हैं जिनके जल्दी पकने से उनमें शराब की मात्रा बढ़ जाती है। यूनान में शराब बनाने वालों ने कहा कि जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए उन्हें अपने आपको मौसम के हिसाब से ढालना होगा और इसके प्रभाव से बचने के लिए कार्ययोजना तैयार करनी होगी।


और भी पढ़ें :