ट्रेड वॉर के बीच अमेरिका को मात देने के लिए चीन डेवलप कर रहा है 6G टेक्नोलॉजी

Last Updated: शुक्रवार, 8 नवंबर 2019 (08:22 IST)
दुनियाभर के देश जहां 5G वायरलेस नेटवर्क डेवलप करने पर काम रहे हैं, वहीं खबरें हैं कि अपने 6G नेटवर्क को डेवलप पर अपना प्रोजेक्ट शुरू कर दिया है।
अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर के बीच यह बड़ी खबर सामने आई है। अमेरिका ने यूरोप पर भी दबाव बनाया कि वह चीनी दूरसंचार कंपनियों पर प्रतिबंध लगाए।

खबरों के अनुसार चीनी कंपनियों के खिलाफ अमेरिका द्वारा उठाए गए कदमों के बाद अपने वर्चस्व को बढ़ाने के लिए चीन ने 6G टेक्नोलॉजी विकसित करने का फैसला किया है। अमेरिका ने हाल ही में चीनी मोबाइल कंपनियों तकनीकों पर पर जासूसी के संदेह में बैन लगा दिया था।
हाल के महीनों में अल्ट्रा-फास्ट मोबाइल सेवाओं से संबंधित तकनीकों पर अमेरिका और चीन में तकरार देखने को मिली थी।

5G स्पीड 4G से 20 गुना अधिक तेज होती है। यह नई टेक्नोलॉजी सेल्फ ड्राइविंग कारों में प्रयोग की जाती है। 6G की स्पीड 5G से भी कई गुना तेज होगी।

चीनी सरकार के मंत्रालयों ने इस हफ्ते हुई बैठक में 6G टेक्नोलॉजी रिसर्ज और डेवलपमेंट ग्रुप बनाया गया है, जो इस प्रोजक्ट पर काम करेगा।



और भी पढ़ें :