मंगलवार, 23 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. अंतरराष्ट्रीय
  4. Bilawal Bhutto lost election on Lahore seat, Sharif also lost on one seat
Last Modified: लाहौर , शनिवार, 10 फ़रवरी 2024 (00:00 IST)

बिलावल भुट्‍टो लाहौर सीट पर चुनाव हारे, शरीफ भी एक सीट पर पराजित

पाकिस्तान में किसी भी दल को बहुमत नहीं, चुनाव में धांधली का आरोप

Bilawal bhutto
Bilawal Bhutto Zardari lost election from Lahore: पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) की वरिष्ठ नेता शेरी रहमान ने पार्टी प्रमुख बिलावल भुट्टो जरदारी के लाहौर संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (PML-N) के अताउल्लाह तरार के सामने हार पर चुनाव में जमकर धांधली का आरोप लगाया है।
 
इस सीट पर तरार 98,210 वोट और बिलावल भुट्टो को 15,005 वोट मिले और वह तीसरे स्थान पर रहे। सुश्री रहमान ने शुक्रवार को लाहौर में कहा कि लाहौर सीट के नतीजे अचानक पलट दिए गए हैं। उन्होंने दावा किया कि मतगणना में पहले बिलावल आगे चल रहे थे, लेकिन धांधली से उन्हें हराने के लिए नतीजों की घोषणा में देरी की गई। 
 
इंटरनेट बंद करने पर उठे सवाल : उन्होंने इस बात पर भी अफसोस जताया कि मतदान के दिन मोबाइल और इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई थीं, जिससे चुनाव के दौरान मतदाताओं और उम्मीदवारों के लिए मुश्किलें पैदा हुईं। उन्होंने कहा कि हम अच्छी तरह जानते हैं कि मोबाइल सेवाओं को बंद करने के पीछे असली मंशा क्या थी।
 
उनका बयान ऐसे समय आया है जब चुनाव नतीजों में अत्यधिक देरी हुई है। पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) ने भी चुनाव की पारदर्शिता पर संदेह जताया है। हालांकि पीटीआई समर्थित स्वतंत्र उम्मीदवार संसदीय चुनाव में सबसे ज्यादा सीटों पर आगे चल रहे हैं, उसके बाद बढ़त में पीएमएल-एन और पीपीपी उम्मीदवारों का स्थान है।
 
मनसेहरा से चुनाव हारे नवाज : पाकिस्तान में 2024 के आम चुनाव में कई राजनीतिक हस्तियों को झटका लगा है। पीएमएल-एन सुप्रीमो नवाज शरीफ मनसेहरा संसदीय निर्वाचन क्षेत्र में पीटीआई समर्थित उम्मीदवार से चुनाव हार गए हैं। शरीफ अपने दूसरे निर्वाचन क्षेत्र (लाहौर की एक सीट) पर पीटीआई की यास्मीन राशिद को हराया।
 
इससे पहले आज पीएमएल-एन नेता एवं पूर्व वित्त मंत्री मुहम्मद इशाक डार ने दावा किया कि 2024 के आम चुनावों में पार्टी जीत हासिल करने के बाद भी निर्दलीय सदस्यों को साथ लेगी। निर्दलीय उम्मीदवार संविधान के अनुसार अगले 72 घंटों में किसी भी पार्टी में शामिल हो सकते हैं। (एजेंसी) 
Edited by: Vrijendra Singh Jhala
ये भी पढ़ें
शिवपाल ने CM योगी पर साधा निशाना, बोले अखिलेश के चाचा थे, हैं और रहेंगे...