अमेरिका का शत्रु है इस्लामिक कट्टरपंथी आतंकवाद : रूडी गिलानी

क्लीवलैंड| पुनः संशोधित मंगलवार, 19 जुलाई 2016 (18:09 IST)
हमें फॉलो करें
क्लीवलैंड। न्यूयॉर्क के पूर्व मेयर रूडी गिलानी ने इस्लामिक कट्टरपंथी को अमेरिका का शत्रु बताते हुए इस पर बिना शर्त विजय पाने के लिए अमेरिकी जनता से रिपब्लिकन पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीवार डोनाल्ड ट्रंप को वोट देने की अपील की है।
 
रिपब्लिकन पार्टी के राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए गिलानी ने कहा, बीते सात माह में इस्लामिक कट्टरपंथी आतंकवादी हम पर और हमारे सहयोगियों पर पांच गंभीर हमले कर चुके हैं। अपने शत्रु को स्पष्ट तौर पर पहचानने से हमें घबराना नहीं चाहिए। 
 
उन्होंने कहा, मैं पूरे इस्लाम को इसका दोष नहीं दे रहा। मैं इस्लामी कट्टरपंथी आतंकवाद शब्द का इस्तेमाल कर रहा हूं। उन्हें स्पष्ट तौर पर नहीं पहचाने जाने के कारण दुनियाभर के भद्र मुस्लिमों की छवि खराब हो रही है। इससे सियासी तौर पर गलत होने का खौफ भी बैठ जाता है जिसके परिणाम गंभीर हो सकते हैं। ऐसा हुआ भी है। इसीलिए हमारे शत्रु हमें कमजोर और संवेदनशील मानते हैं। 
 
गिलानी ने कहा, डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि अपने शत्रुओं को हराने की दिशा में पहला कदम उन्हें ठीक से पहचानना और उनके बीच संपर्कों को जानना है। इस्लामिक कट्टरपंथी आतंकवाद को हराने के लिए उसे बचाव की मुद्रा में लाना जरूरी है। अगर वे हमारे खिलाफ युद्ध छेड़ते हैं (जैसी कि उन्होंने घोषणा भी की है) तो हमें उनके खिलाफ स्पष्ट जीत हासिल करनी होगी। 
 
उन्होंने कहा, इसमें अमेरिका द्वारा किए गए अब तक के सबसे खराब समझौतों में से एक शामिल है-ईरान के साथ ओबामा का परमाणु समझौता। इससे वह परमाणु शक्ति बन जाएगा और हम उस देश को अरबों डॉलर देंगे जो दुनिया में आतंकवाद का सबसे बड़ा प्रायोजक है। (भाषा) 



और भी पढ़ें :