Jeff Bezos का ये दावा चौंका देगा, बच्‍चे पैदा होंगे अंतरिक्ष में, छुट्टि‍यां मनाएंगे पृथ्‍वी पर

Last Updated: रविवार, 14 नवंबर 2021 (17:25 IST)
के मालिक ऑनलाइन शॉपिंग की दुनिया के किंग हैं, लेकिन अब उन्‍होंने एक ऐसा दावा किया है जो सबको चौंका रहा है। उन्‍होंने भविष्‍य की दुनिया को लेकर दिलचस्‍प संकेत दिए हैं और लोगों को हैरत में डाल दिया है।

स्पेस को लेकर लगातार नए प्रोजेक्ट्स में जुटे हुए अरबपति जेफ बेजॉस ने कहा है कि जल्दी ही वो दिन आएगा जब इंसान अंतरिक्ष में बच्चों को जन्म देगा और वे छुट्टियों में घूमने के लिए धरती पर आया करेंगे। उनकी ये कल्पना ग्लोबल मीडिया में खासी सुर्खियां बटोर रही है।

इंसान धरती के बाद अब अंतरिक्ष पर भी अपनी बस्तियां बसाने की कोशिश में जुटा हुआ है। वैज्ञानिक आए दिन इस पर नए-नए रिसर्च कर रहे हैं। इसी बीच लीडिंग ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी Amazon के मालिक Jeff Bezos ने दावा किया है कि भविष्य में इंसान की बस्तियां अंतरिक्ष में होंगी और वे छुट्टी मनाने के लिए धरती पर आया करेंगे।

Blue Origin नाम की रॉके मेकिंग कंपनी के मालिक बेजॉस का दावा है कि अब से 100-150 साल बद लोग अंतरिक्ष में बड़े सिलेंडर्स में जाया करेंगे और वहां धरती जैसा ही प्राकृतिक माहौल बना लेंगे।

वहीं, वे बच्चों को भी जन्म देंगे और धरती पर हॉलीडे डेस्टिनेशन की तरह पहुंचा करेंगे। उन्होंने वॉशिंगटन के Ignatius Forum में बोलते हुए ये अनोखी भविष्यवाणी की, जो सुर्खियों में आ गई।

Jeff Bezos का कहना है कि इंसान अंतरिक्ष में धरती की ही तरह रहने का माहौल बना लेगा। वहां नदियां, जंगल और जंगली जानवर भी मिलेंगे। बेजॉस के दावे के मुताबिक अंतरिक्ष करीब 10 लाख लोगों के रहने की जगह बन सकेगी।

उन्होंने कहा सदियों बाद लोग अंतरिक्ष में ही पैदा होंगे और ये उनका मूल घर होगा। वे अपनी कॉलोनीज़ में जन्म लेंगे और धरती पर वे उसी तरह घूमने आएंगे, जैसे छुट्टियां मनाने हम दूसरी जगहों पर जाते हैं। 57 साल के बेजॉस की कंपनी ब्लू ओरिजंस ने अंतरिक्ष में इंसानों को बसाने का कॉन्सेप्ट साल 2019 में ही पेश किया था।
गार्डियन से बात करते हुए बेजॉस ने ये भी बताया कि अंतरिक्ष में न तो बारिश होगी और न ही भूकंप आएंगे।

1976 में वैज्ञानिक जेरार्ड ओ नील की ओर से ऐसा ही कॉन्सेप्ट पेश किया गया था और कहा गया था कि अरबों लोग आने वाले वक्त में स्पेस में रहेंगे। उनका मानना था कि धरती की तरह और भी ग्रहों पर मानव जीवन संभव हो सकता है। बेजॉस इसी कॉन्सेप्ट का समर्थन करते हैं।



और भी पढ़ें :