सारे जहाँ से अच्‍छा क्यों है हिन्दुस्तान

15 August Poem
Independence Day 
अनिरुद्ध जोशी| Last Updated: शनिवार, 14 अगस्त 2021 (12:29 IST)
आपने वह गाना तो सुना ही होगा- सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा, हम बुलबुलें हैं इसकी ये गुलिस्तां हमारा। यह गीत कवि, बैरिस्टर और दार्शनिक मोहम्मद इकबाल ने लिखा था। जैसी सोशल साइट पर चल रहा है सारे जहां से अच्छा कैंपेन या चैलेंज उसकी संदर्भ में आओ जानते हैं कि आखिर क्यों कहते हैं भारत या हिन्दुस्तान को सारे जहाँ से अच्‍छा?

1. पर्वत : भारत में हिमालय और ऊंचे-ऊंचे अन्य पर्वत है। इतने ऊंच पर्वत जो विश्‍व में कहीं नहीं देखने को मिलेंगे। माउंट एवरेस्ट के बाद भारत में कंचनजंगा, नंदादेवी का नंबर आता है और इसी के समानांतर अन्य कई पहाड़ हैं। यह सभी पर्वत हमारे लिए संतरी की तरह है।

2. रेगिस्तान : भारत में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा रेगिस्तान है। राजस्थान के हनुमानगढ़, बीकानेर, जोधपुर, जैसलमेर और बाड़मेर में है रेगिस्तान। इसे थार रेगिस्तान कहते हैं जिसका 61 प्रतिशत भाग भारत में और बाकी पाकिस्तान में है। भारत में यह गुजरात, हरियाणा और पंजाब की सीमाओं तक फैला है। इसके अलावा गुजरात का कच्छ का रण जिसके रेगिस्तान को सपेद नमक का रेगिस्तान कहते हैं।
3. नदियां : भारत में दुनिया की सबसे ज्यादा नदियां बहती हैं। यह अनगिनत नदियों का देश है तभी तो कहते हैं कि गोदी में खेलती है जिसकी हजारों नदियां। गंगा, यमुना, सिंधु, झेलम, कृष्णा, कावेरी, गोदावरी, गोमती, महानदी, नर्मदा, क्षिप्रा, सरयू और ब्रह्मपुत्र ये तो बड़ी नदियां हैं परंतु इनकी सहायक नदियां हजारों हैं।

4. समुद्र : भारत ही एक मात्र ऐसा देश है जिसके तीन ओर समुद्र है और जिसकी हजारों किलोमीटर की तट रेखा है। यहां गोवा से लेकर केरल और बंगाल से लेकर तमिलनाडु तक हजारों बीचेस हैं। भारत के एक और बंगाल की खाड़ी, दूसरी ओर अरब की खाड़ी जिसे सिंधु सागर कहते हैं और तीसरी ओर हिन्द महासागर है।

5. जंगल : भारत में सबसे भयानक और घने जंगलों की संख्या भी कम नहीं है, जैसे सुंदरवन, कान्हा किसली, जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क, पन्ना टाइगर रिजर्व, सरिस्का, रणथम्भौर, गिरवन, बांदीपुर नेशनल पार्क कर्नाटक, काजीरंगा राष्ट्रीय अभयारण्य, अबूझामड़, अंडमान निकोबार के जंगल आदि सैंकड़ों जंगल है।

6. रहस्यमयी गुफाएं : भारत में बहुत सारी प्राचीन गुफाएं हैं, जैसे बाघ की गुफाएं, अजंता- एलोरा की गुफाएं, एलीफेंटा की गुफाएं और भीम बेटका की गुफाएं आदि हजारों गुफाएं हैं जिन्हें देखने का रोमांच है।
7. 90 हजार वर्षों से बरकरार है अस्तित्व : ज्ञात रूप से भारतवर्ष करीब 10 हजार वर्षों पूर्व भी विद्यमान और आज भी है, परंतु पौराणिक कथाओं और अन्य तथ्‍यों के आधार पर यह 90 हजार वर्षों से विद्यमान है। इस देश के साथ के मिस्र, यूनान, मकदूनिया, ईरान, आदि कई देशों की सभ्यताएं मिट गई लेकिन आज भी भारत है। हम पर कई आक्रमण हुए लेकिन हमने किसी पर कभी आक्रमण नहीं किया फिर भी हमारा नामोनिशाँ अभी तक बाकी है। सदियां हमारी दुश्मन रही है और वे दुश्‍मन अब नहीं रहे लेकिन हम अभी भी हैं। कुछ बात है कि हस्ती मिटती नहीं हमारी सदियों रहा है दुश्मन दौर-ए-ज़माँ हमारा।
9. बहुधर्मी देश : भारत एक बहुधर्मी देश है फिर भी हम सभी मिलजुलकर रहते हैं क्योंकि हमारा मजबह हमें नहीं सिखता आपस में बैर रखना। बाद में हिन्दू, मुसलमान, ईसाई, सिख, बौद्ध या जैन हैं पहले आज भी हिन्दी हैं हम, वतन है हिन्दुस्तान हमारा। सभी भारतीय हैं और भारतीय ही रहेंगे। जब राष्ट्र की बात आती है तो सभी एकमत होकर खड़े हो जाते हैं और एक दूसरे की मदद करते हैं।

10. रहता है दिल वतन में : भारत से बाहर कोई कहीं भी चला जाए लेकिन उसके दिल वतन में ही रहता है क्योंकि भारत प्यारा देश दुनिया में कहीं नहीं है। इसीलिए सारे जहाँ से अच्‍छा हिन्दुस्तान।



और भी पढ़ें :