ये 10 फूड अपनी डाइट में कर लिए शामिल तो कैंसर का खतरा हो जाएगा बि‍ल्‍कुल कम

विशेषज्ञ मानते हैं कि हेल्दी लाइफस्टाइल और सही डाइट को फॉलो करने से गंभीर बीमारियों की चपेट में आने का खतरा कम हो जाता है। हेल्दी ईटिंग से कई रोगों को टाला जा सकता है, यहां तक कि कैंसर से बचाव भी किया जा सकता है।

आइए जानते हैं ऐसे 10 तरह के फूड के बारे में जो आपके कैंसर के खतरे को कई प्रतिशत तक कम कर सकते हैं।

सेब: एंटी-ऑक्सीडेंट्स के बेहतरीन स्रोत होते हैं सेब। वहीं, इसमें पाए जाने वाले अन्य तत्व जैसे कि फाइबर्स ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को कम करने में फायदेमंद माने गए हैं।

पीनट ऑयल: मूंगफली के तेल में भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स पाए जाते

हैं जो कई तरह के कैंसर के खतरे को कम करते हैं।

अनार: स्वास्थ्य विशेषज्ञ मानते हैं कि कुछ कैंसर ओइस्ट्रोजेन के कारण होने हो जाते हैं। बता दें कि 2015 के एक अध्ययन के अनुसार इस मौसमी फल में मौजूद तत्व इस तरह के कैंसर का खतरा कम करते हैं। इसके साथ ही, अनार प्रोस्टेट कैंसर व हार्ट डिजीज से भी बचाता है।

गाजर: गाजर में एंटी-ऑक्सीडेंट्स भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं जो कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकते हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार गाजर में पॉलीएसिटिलीन तत्व मौजूद होते हैं, ये कैंसर सेल्स को खत्म कर ट्यूमर के ग्रोथ को रोकने में प्रभावी माने गए हैं। साथ ही, इस मौसमी सब्जी में मौजूद केरेटिनॉइड एसिड महिलाओं में होने वाले स्तन कैंसर सेल्स के शुरुआती बदलाव को रोकने में असरदार होता है। डॉक्टर्स मानते हैं कि गाजर का जूस बनाकर पीने से लोगों में कैंसर का खतरा कम होता है।

ब्रोकली: इस क्रुसिफेरस सब्जी में खास गुण पाए जाते हैं जो ट्यूमर के ग्रोथ को रोकने में सक्षम हैं। ब्रोकली में फोलेट और विटामिन के जैसे विटामिन्स-मिनरल्स पाए जाते हैं। साथ ही, फाइटोन्यूट्रिएंट्स भी मौजूद होते हैं। ये सभी मिलकर कैंसर का खतरा कम करते हैं। खासकर इसके प्रभाव से स्तन कैंसर का खतरा कम होता है।

इनसे भी होगा बेहद फायदा: ताजे या फ्रोज़ेन बेरीज़ जिनमें जामुन, स्ट्रॉबेरीज़ व सभी प्रकार की बेरीज़ को खाना फायदेमंद हैं। डार्क चॉकलेट जिनमें तकरीबन 70 फीसदी कोकोआ मौजूद हो। हर तरह की सब्जियां, सभी प्रकार के सूखे मेवे। ओमेगा 3 फैटी एसिड्स से भरपूर खाद्य पदार्थों को खाने से भी लाभ होगा। हल्दी, ऑलिव ऑयल, दाल, अंगूर, मूंगफली और ग्रीन टी भी लाभदायक है।



और भी पढ़ें :