गुरुवार, 25 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. लाइफ स्‍टाइल
  2. सेहत
  3. हेल्थ टिप्स
  4. Spring Season Foods
Written By WD Feature Desk

वसंत ऋतु में क्या खाएं और क्या नहीं? जानें आयुर्वेद के अनुसार सही डाइट

आयुर्वेद के अनुसार वसंत ऋतु में करें इन चीजों का सेवन

Spring Season Foods
Spring Season Foods
  • वसंत ऋतू में सीजनल फल और सब्जी खाएं।
  • इस मौसम में जौ और राजमा फायदेमंद है।
  • चाय, कॉफ़ी और तला भुना खाने से बचें।
वसंत ऋतु (Spring Season) का आगमन हमारे जीवन को नई ऊर्जा और प्रेरणा के साथ भर देता है। यह ऋतु विशेष रूप से हमारे आहार और जीवनशैली के लिए महत्वपूर्ण है। आयुर्वेद के अनुसार, वसंत ऋतु में सही आहार (Spring Season Foods) और जीवनशैली अपनाने से हम शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रख सकते हैं। यहां हम वसंत ऋतु में आयुर्वेद के अनुसार क्या खाएं और क्या ना खाएं के बारे में चर्चा करेंगे। ALSO READ: मेटाबॉलिज्म की गति को धीमा करती हैं आपकी ये 5 आदतें
 
वसंत ऋतु में खाएं ये चीज़ें
1. स्थानीय फल और सब्जियां : वसंत ऋतु में स्थानीय फल और सब्जियां खाना अत्यंत महत्वपूर्ण है। ताजगी से भरपूर फल और सब्जियां हमें विटामिन्स, मिनरल्स, और आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करती हैं जो हमें ऊर्जा और ताजगी प्रदान करते हैं।
 
2. हल्दी : हल्दी एक प्राचीन औषधि है जो विशेष रूप से वसंत ऋतु में उपयोगी होती है। इसके अंटीऑक्सिडेंट गुण और तात्कालिक शुष्क करने वाले गुण हमारी त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाए रखते हैं।
Spring Season Foods
3. गीला अनाज : वसंत ऋतु में गीला अनाज जैसे कि धान, जौ और राजमा आपके शारीरिक स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद कर सकते हैं। इनमें उच्च फाइबर, प्रोटीन, और विटामिन्स होते हैं जो आपके शरीर के लिए आवश्यक हैं।
 
4. ड्राई फ्रूट्स : वसंत ऋतु में ड्राई फ्रूट्स जैसे कि अंजीर, किशमिश, और खजूर का सेवन करना भी अच्छा होता है। ये फल तात्कालिक ऊर्जा प्रदान करते हैं और वात प्रकोप को शांत करते हैं।
 
5. प्राणायाम और योग : वसंत ऋतु में प्राणायाम और योग करना भी फायदेमंद होता है। यह हमें ताजगी और सकारात्मकता प्रदान करता है और मानसिक तनाव को कम करता है।
 
वसंत ऋतु में न करें इन चीज़ों का सेवन 
1. तला और भारी भोजन : गर्मी के मौसम में तला और भारी भोजन का सेवन करना अधिक गर्मी और ऊर्जा का अपशिष्ट कर सकता है। इससे लालिमा, अनियमितता और तनाव हो सकता है।
 
2. अत्यधिक गरम चीजें : वसंत ऋतु में अत्यधिक गरम और तली हुई चीजें जैसे कि पकोड़े, समोसे, और वड़े का सेवन करना भी अच्छा नहीं होता है। इससे आपके शारीरिक स्वास्थ्य को नुकसान हो सकता है।
 
3. अधिक मिठा : वसंत ऋतु में अधिक मिठा और तली चीजें खाना भी अच्छा नहीं होता है। यह शरीर के रक्त शर्करा स्तर को बढ़ा सकता है और अत्यधिक वजन के कारण हेल्थ प्रॉब्लम्स का कारण बन सकता है।
 
4. अधिक कॉफी और चाय : अधिक कॉफी और चाय का सेवन करना भी वसंत ऋतु में अच्छा नहीं होता है। यह आपके तनाव को बढ़ा सकता है और नींद को प्रभावित कर सकता है।
 
5. अधिक तल समान चीजें : वसंत ऋतु में अधिक तल समान चीजों का सेवन करना भी ठीक नहीं होता है। इससे आपकी त्वचा और संवेदनशील तंतु में तनाव का वृद्धि हो सकता है।
 
वसंत ऋतु में सही आहार और जीवनशैली अपनाकर हम अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को सुरक्षित रख सकते हैं। स्थानीय और ताजगी से भरपूर फल और सब्जियां, हल्दी, और प्राणायाम वसंत ऋतु में आहार का महत्वपूर्ण हिस्सा होते हैं। वहीं, अधिक तली हुई और मिठाई समान चीजों का सेवन कम किया जाना चाहिए। यदि हम इन सलाहों का पालन करते हैं, तो हम वसंत ऋतु को स्वास्थ्यपूर्ण और सुखद बना सकते हैं।
अस्वीकरण (Disclaimer) : चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, योग, धर्म, ज्योतिष, इतिहास, पुराण आदि विषयों पर वेबदुनिया में प्रकाशित/प्रसारित  वीडियो, आलेख एवं समाचार सिर्फ आपकी जानकारी के लिए हैं, जो विभिन्न सोर्स से लिए जाते हैं। इनसे संबंधित सत्यता की पुष्टि वेबदुनिया नहीं करता है। सेहत  या ज्योतिष संबंधी किसी भी प्रयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। इस कंटेंट को जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है जिसका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है।
ये भी पढ़ें
बढ़ती उम्र में भी रिंकल्स-फाइन लाइंस नहीं आएंगी नजर, बस करें ये काम