महिलाओं ने जलाया मोदी का पुतला, मनाया महिला किसान दिवस

Last Updated: सोमवार, 18 जनवरी 2021 (16:47 IST)
जालंधर। किसान संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर आज सोमवार को महिला किसान दिवस के अवसर पर महिलाओं ने शहर के गढ़ा क्षेत्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पुतला जलाकर कृषि सुधार कानूनों के प्रति विरोध व्यक्त किया। स्त्री सभा की नेता रघुबीर कौर ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा पारित करवाए गए तीनों कृषि कानून किसान विरोधी होने के साथ-साथ मजदूर, दुकानदार और छोटे व्यापारियों के लिए भी नुकसानदायक हैं।
ALSO READ:
आज महिलाओं के नाम होगा किसान आंदोलन,सभी मोर्चों पर महिलाओं के हाथों में होगी कमान
कौर ने कहा कि बड़ी संख्या में किसान, मजदूर और महिलाएं दिल्ली के सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर पिछले 52 दिनों से आंदोलन कर रहे हैं और मोदी सरकार किसानों के आंदोलन को असफल करने के लिए हर प्रकार के हथकंडे अपना रही है। किसानों की यह लड़ाई तब तक जारी रहेगी, जब तक कि केंद्र सरकार कृषि कानूनों को वापस नहीं ले लेती।
जनवादी स्त्री सभा की नेता सुनीता नूरपुरी ने कहा कि 26 जनवरी की किसान परेड में शामिल होने के लिए जिले से बड़ी संख्या में औरतें दिल्ली जाएंगी तथा परेड में शामिल होने के लिए नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जयंती के अवसर पर 23 जनवरी को लोगों को जागरूक करने के लिए रैली निकाली जाएगी। (वार्ता)



और भी पढ़ें :