मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल पहुंचे कोविशील्ड वैक्सीन के 94 हजार डोज

इंडिगो की फ्लाइट 6E661 से वैक्सीन पहुंची भोपाल

Author विकास सिंह| पुनः संशोधित बुधवार, 13 जनवरी 2021 (14:41 IST)
भोपाल। आखिरकार मध्यप्रदेश के लोगों के इंतजार की घड़ियां खत् हुई। कोरोना वायरस को हराने वाली की पहली खेप मुंबई से आज भोपाल पहुंच गई। कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के 94 हजार टीकों की पहली खेप मुंबई से शेड्यूल फ्लाइट से भोपाल के राजा भोज एयरपोर्ट पहुंची। एयरपोर्ट से स्वास्थ्य विभाग की इंसुलेटेड वैन के जरिए कोरोना वैक्सीन को कमला पार्क स्थित राज्य के स्टेट वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचाया गया। इंसुलेटेड वैन में 7 डिग्री सेल्सियस तक के तापमान को बनाए रखते हुए वैक्सीन को वैक्सीन सेंटर तक लाया गया।
ALSO READ:
कोविशील्ड और कोवैक्सीन को मंजूरी मिलने के बाद वैक्सीनेशन से जुड़े आपके 10 सवाल
पहले चरण में प्रदेश में 16 जनवरी को 302 स्वास्थ्य केंद्रों पर कोरोना टीकाकरण प्रारंभ होगा। प्रथम चरण में कोरोना वारियर्स एवं फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीके लगाए जाएंगे, जिनकी संख्या लगभग 4 लाख 16 हजार है।पहले चरण में प्रदेश में 16 जनवरी को 302 स्वास्थ्य केंद्रों पर कोरोना टीकाकरण प्रारंभ होगा। प्रथम चरण में कोरोना वारियर्स एवं फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीके लगाए जाएंगे, जिनकी संख्या लगभग 4 लाख 16 हजार है।
मध्यप्रदेश ‌में के लिए‌ जिला अस्पताल,सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, नागरिक अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, तथा चयनित निजी संस्थानों में टीकाकरण का कार्य किया जाएगा। वैक्सीनेशन के लिए कुल 1149 टीकाकरण केंद्र ‌बनाने के साथ इतने ही दल बनाए गए हैं। प्रत्येक दल में 4 वैक्सीनेशन ऑफिसर रहेंगे, जिनमें 2 एएनएम एक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता तथा एक आशा कार्यकर्ता होगी।
राजधानी भोपाल में पहले चरण में अस्पतालों में बनाए गए 80 जगहों पर वैक्सीनेशन किया जाएगा। इन सभी वैक्सीन सेंटर पर 126 सेशन प्रस्तावित किए गए है। जिसमे 30 हजार स्वास्थ कर्मियो का वैक्सीनेशन होगा। यह प्रक्रिया 3 से 5 दिन मे पूरी होगी। वैक्सीनेशन के लिए सभी स्वास्थ कर्मियो को एसएमएस किए जायेंगे। इसके लिए स्मार्ट सिटी में कंट्रोल रूम स्थापित किया जाएगा। सभी जगह एक साथ इस प्रक्रिया को एक साथ शुरू किया जाएगा एक दिन में 8 से 10 हजार लोगो का वैक्सीन लगाए जाने की तैयारी की गई है।



और भी पढ़ें :