0

इस मुहूर्त में करें षटतिला एकादशी का पूजन, मिलेगा पुण्य, जानें शुभ समय

रविवार,जनवरी 19, 2020
shattila ekadashi muhurat
0
1
प्राचीन काल में मृत्युलोक में एक ब्राह्मणी रहती थी। वह सदैव व्रत किया करती थी। एक समय वह एक मास तक व्रत करती रही। इससे उसका शरीर अत्यंत दुर्बल हो गया।
1
2
धार्मिक शास्त्रों के अनुसार 20 जनवरी, सोमवार को षटतिला एकादशी है। इस दिन काले तिल से भगवान विष्णु की पूजा करने का अधिक मह‍त्व है। जीवन में हमें कई बार ग्रह, भूत या देव बाधा का सामना करना पड़ता है।
2
3
20 जनवरी 2020, सोमवार को षटतिला एकादशी आ रही है। यह व्रत भगवान श्रीहरि विष्‍णु की पूजा का व्रत है। माघ मास की कृष्‍ण पक्ष की एकादशी को यह व्रत किया जाता है।
3
4
पौष शुक्ल एकादशी (poush shukal ekadashi) का क्या नाम है, उसकी विधि क्या है और उसमें कौन-से देवता का पूजन किया जाता है।
4
4
5
पौष महीने की शुक्ल पक्ष की एकादशी के दिन पुत्रदा एकादशी आती है। हालांकि पुत्रदा एकादशी वर्ष में दो बार आती है। वर्ष 2020 में यह एकादशी व्रत 6 जनवरी, सोमवार को मनाया जा रहा है।
5
6
22 दिसंबर, रविवार को वर्ष 2019 की अंतिम एकादशी आ रही है। पौष कृष्ण एकादशी का क्या नाम है? उस दिन कौन से देवता का पूजन किया जाता है और उसकी क्या विधि है? कृपया मुझे बताएं।
6
7
हिन्दू धर्मों में व्रत-उपवास का बहुत महत्व है। वैसे तो सभी धर्मों के नियम भी अलग-अलग होते हैं। खास कर हिन्दू धर्म के अनुसार एकादशी व्रत करने की इच्छा रखने वाले मनुष्य को दशमी के दिन से ही कुछ अनिवार्य नियमों का पालन करना चाहिए।
7
8
एकादशी तिथि का भारतीय सनातन धर्म में बहुत महत्व है। इस व्रत से संकल्प और आत्मविश्वास बढ़ता है, ऐेसे कौन से 26 व्रत हैं, जो सभी पापों को नष्ट कर संकटों को खत्म कर देते हैं
8
8
9
वर्ष 2019 की अंतिम एकादशी 22 दिसंबर, रविवार को आ रही है। यह एकादशी अपने नाम की तरह ही हर कार्य में सफल बनाने वाली मानी गई है। इसकी कथा के अनुसार
9
10
मार्गशीर्ष एकादशी का क्या नाम है? उस दिन कौन-से देवता का पूजन किया जाता है और उसकी क्या विधि है? कृपया मुझे बताएं।
10
11
रविवार, 8 दिसंबर 2019 को मोक्षदा एकादशी मनाई जा रही है। मार्गशीर्ष माह में शुक्ल पक्ष को आने वाली एकादशी मनुष्य को जन्म-मृत्यु के बंधन से मुक्त कराती है।
11
12
उत्पन्ना एकादशी के दिन देवी एकादशी का जन्म हुआ था इसीलिए इस एकादशी का महत्व और भी बढ़ जाता है। वैतरणी एकादशी को व्रत-उपवास रखने से शीघ्र ही सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।
12
13
जब युधिष्ठिर कहने लगे कि हे भगवन्! आपने हजारों यज्ञ और लाख गौदान को भी एकादशी व्रत के बराबर नहीं बताया, सो यह तिथि सब तिथियों से उत्तम कैसे हुई, बताइए।
13
14
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार 26 एकादशियों में उत्पन्ना एकादशी का विशिष्ट महत्व है। अत: जो भक्त एकादशी का व्रत आरंभ करना चाहते हैं उन्हें मार्गशीर्ष कृष्ण एकादशी यानी
14
15
शुक्रवार, 22 नवंबर 2019 को उत्पन्ना एकादशी व्रत पड़ रहा है। भारतीय धर्म संस्कृति में इस एकादशी का बहुत अधिक महत्व माना गया है।
15
16
कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को देवउठनी एकादशी कहा जाता है। इसे हरि प्रबोधिनी एकादशी और देवोत्थान एकादशी भी कहा जाता है। इस एकादशी का विधि विधान से व्रत रखने पर पितृदोष का निवारण हो जाता है।
16
17
भगवान विष्णु आषाढ़ शुक्ल एकादशी को चार माह के लिए सो जाते हैं और कार्तिक शुक्ल एकादशी को जागते हैं। इस एकादशी के दिन से चतुर्मास का अंत भी हो जाता है। इसीलिए कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को देवउठनी एकादशी कहा जाता है। इसे हरि प्रबोधिनी एकादशी ...
17
18
हमारे पौराणिक शास्त्रों में रमा (रंभा) एकादशी का बड़ा महत्व बताया गया है। इस एकादशी का महत्व इसल‌िए भी अध‌िक है, क्योंक‌ि यह एकादशी चातुर्मास की अंत‌िम एकादशी है।
18
19
दशहरे के अगले दिन बुधवार 9 अक्टूबर 2019 को आश्विन शुक्ल एकादशी के दिन 'पापाकुंशा एकादशी' व्रत मनाया जा रहा है। इस दिन श्रीहरि विष्णु के पूजन का विशेष महत्व है।
19
विज्ञापन
Traveling to UK? Check MOT of car before you buy or Lease with checkmot.com®