आर्थिक मंदी का असर, मार्च 2020 में 40% घटी नई नौकरियां

Last Updated: शुक्रवार, 22 मई 2020 (21:51 IST)
नई दिल्ली। देश में आर्थिक मंदी के कारण वर्ष 2020 के मार्च माह में औपचारिक क्षेत्र की नौकरियों में 40 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है। के आंकड़ों के अनुसार, भविष्य निधि से जुड़ने वाले युवा कर्मचारियों की संख्या में भी कमी आई है।
सरकार के शुक्रवार को यहां जारी आंकड़ों के अनुसार, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन- ईपीएफओ के भविष्य निधि कोष से मार्च में
401,949 नए कर्मचारी जुड़े हैं। इससे पिछले माह फरवरी में 745,655 कर्मचारी भविष्य निधि योजना में शामिल हुए थे।

आंकड़ों के अनुसार, भविष्य निधि से जुड़ने वाले युवा कर्मचारियों की संख्या में भी कमी आई है। इसके अलावा पुराने कर्मचारियों के अंशदान में भी गिरावट दर्ज की जा रही है।
गौरतलब है कि मार्च के अंतिम सप्ताह में कोरोना वायरस (Corona virus) महामारी के चलते देशभर में को लागू किया गया था। जानकारों का कहना है कि इसके कारण उत्पादन में कमी के साथ-साथ मांग में भी कमी आई है। (वार्ता)


और भी पढ़ें :