अमेरिका समेत 3 देशों में हुए अध्ययन में AstraZeneca Vaccine के प्रभावी होने का मिला प्रमाण

पुनः संशोधित सोमवार, 22 मार्च 2021 (18:07 IST)
लंदन। अमेरिका और 2 दक्षिण अमेरिकी देशों में ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका टीके पर हुए एक बड़े परीक्षण में सामने आया है कि यह टीका कोरोनावायरस (Coronavirus) को होने से रोकने में 79 प्रतिशत और रोग को गंभीर होने से रोकने में 100 प्रतिशत तक प्रभावी है। जैव प्रौद्योगिकी कंपनी ने सोमवार को यह जानकारी दी।
ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय तथा एस्ट्राजेनेका कंपनी द्वारा विकसित टीके के तीसरे चरण का अध्ययन अमेरिका, चिली और पेरू में किया गया, जिससे इसके सुरक्षित और प्रभावी होने की पुष्टि दोबारा हुई। इससे पहले ब्रिटेन, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका में टीके का परीक्षण किया गया था।

भारत के सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा भी इस टीके का उत्पादन किया जा रहा है। टीका सभी उम्र और समुदाय के लोगों पर समान रूप से प्रभावी देखा गया और 65 वर्ष की आयु से अधिक के व्यक्तियों पर यह 80 प्रतिशत असरदार रहा।

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और टीके के प्रमुख जांचकर्ता एंड्र्यू पोलार्ड ने कहा, यह नतीजे मिलना अच्छी खबर है, क्योंकि इससे टीके के प्रभाव का पता चलता है। यह ऑक्सफोर्ड के ट्रायल के नतीजे में भी समान रूप से प्रभावी दिखता है।

उन्होंने कहा, सभी उम्र और पृष्ठभूमि के लोगों को टीका दिए जाने पर कोविड-19 से डटकर मुकाबला किया जा सकता है।(भाषा)



और भी पढ़ें :