कानपुर के DM हुए सख्त, बोले- बेवजह घर से निकले तो सीधे जाओगे जेल

कानपुर| अवनीश कुमार| Last Updated: मंगलवार, 7 अप्रैल 2020 (08:06 IST)
कानपुर। महामारी को लेकर उत्तर प्रदेश में चल रहे के चलते में सुबह 6:00 बजे से 11:00 बजे तक की आम जनता को मिल रही छूट पर भी अब रोक लग गई है। जिलाधिकारी डॉ ब्रह्मदेव राम तिवारी ने लोगों को चेतावनी देते हुए कहा कि बेवजह घर से निकले तो सीधे जेल जाओगे।

कानपुर में नियम बेहद सख्त करते हुए जिला प्रशासन ने शक्ति बढ़ा दी है और इसके पीछे की मुख्य वजह पिछले कुछ दिनों के अंदर कोरोना संक्रमित से मरीजों की बढ़ रही संख्या है।

जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश में चल रहे लॉक डाउन के बीच अन्य जिलों की अपेक्षा कानपुर में आम जनता को थोड़ी सी राहत मिल रही थी लेकिन कोरोना वायरस की बढ़ती संख्या को देखकर कानपुर जिला प्रशासन अब बेहद सख्त हो गया है।
जिलाधिकारी डॉ ब्रह्मदेव राम तिवारी ने आदेश जारी करते हुए कहा है कि बेवजह सड़कों पर घूमने वालों की अब खैर नहीं है। पुलिस को निर्देशित करते हुए कहा है कि अगर वह बेवजह घूमते हुए सड़कों पर कोई भी दिख जाएं तो उनका रास्ता घर का नहीं, बल्कि जेल का होना चाहिए।

पुलिस प्रशासन भी बेहद सख्त हो गया है और मंगलवार सुबह से ही सड़कों पर पुलिस गश्त करते हुए दिख रही है सन्नाटा साफ तौर पर देखा जा सकता है।
लॉक डाउन के समय क्या क्या खुलेगा- जिलाधिकारी के यहां से जारी पत्र के अनुसार निम्न कार्यों को लॉक डाउन से बाहर रखा गया है और यह सभी लोग नियमों का पालन करते हुए कार्य कर सकते हैं। जिसमें

मीडिया, हॉकर (पत्र वितरक), दूध वाले, दूधिया, मिल्क पालर्स, सब्जी या फल के ठेले वाले होम डिलीवरी के माध्यम से, मेडिकल स्टोर,
डॉक्टर्स, नर्सिंग होम, होल सेल की राशन की दुकानें, होल सेल की दवा की

दुकानें, फुटकर दवा की दुकानें, ब्रेड वाले, इलेक्ट्रिशियन व प्लंबर, सरकारी कर्मचारी,
आवश्यक वस्तुओं के निर्माण में लगे कर्मी, आवश्यक वस्तुओ के निर्माण की इकाइयां ,गैस, पैट्रोल पम्प यह सभी चलते रहेंगे। इन सभी को अपने पास परिचय पत्र या पास रखना होगा।

जिलाधिकारी डॉ ब्रह्मदेव राम तिवारी ने अपील करते हुए कहा है कि घर में रहें सुरक्षित रहें जरूरी काम से बाहर निकले तो सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन ना करें। नियमों का उल्लंघन करते जो भी दिखेगा उसके

ऊपर विधिक कार्रवाई के साथ भारी जुर्माना लगाया जाएगा उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा है हर व्यक्ति की निगरानी ड्रोन कैमरे के माध्यम से लगातार की जा रही है इसलिए किसी भी प्रकार की अशांति ना फैलाएं और
नियमों का पालन करें।




और भी पढ़ें :