अमेरिका ने हटाया प्रतिबंध, कोरोना वैक्‍सीन लगवा चुके भारतीय यात्री अमेरिका हुए रवाना

पुनः संशोधित सोमवार, 8 नवंबर 2021 (17:30 IST)
नई दिल्ली। द्वारा कोविड रोधी पूर्ण टीकाकरण कराने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों पर से प्रतिबंधों को हटाए जाने के बाद आदित्य गर्ग सोमवार तड़के सैन फ्रांसिस्को रवाना हो गए, जहां वे काम करते हैं।
जयपुर के रहने वाले गर्ग कैलिफोर्निया स्थित इलेक्ट्रिक वाहन कंपनी में काम करते हैं। वह उन कई लोगों में शामिल थे जो सोमवार तड़के अमेरिका जाने के लिए उड़ान में सवार होने के वास्ते दिल्ली हवाई अड्डा पहुंचे थे।

कोरोना वायरस महामारी के कारण अमेरिकी सरकार ने पिछले साल भारत सहित दुनिया के कई देशों के यात्रियों के लिए अपनी सरहदें बंद कर दी थीं। हालांकि बाद में कुछ श्रेणी के तहत वीज़ा हासिल करने वाले यात्रियों को ही अमेरिका जाने की इजाजत दी गई थी।

अमेरिका ने आठ नवंबर से पूर्ण टीकाकरण कराने वाले भारत समेत अंतरराष्ट्रीय यात्रियों पर लगे सभी प्रतिबंधों को हटा लिया है लेकिन उन्हें अमेरिका जाने वाली उड़ान में सवार होने से पहले कोरोनावायरस की जांच की ‘निगेटिव’ रिपोर्ट दिखाना जरूरी है

गर्ग ने कहा कि वह पिछली बार गत वर्ष मार्च में लगने से पहले अमेरिका गए थे। वह यूनाइटेड एयरलाइंस की उड़ान से सुबह साढ़े चार बजे रवाना हुए। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय प्रस्थान लाउंज में प्रवेश करने से पहले कहा, मैं ‘बे एरिया’ में काम करता हूं और रहता हूं।

राहत की बात है कि इतने लंबे समय बाद मैं अमेरिका जा पा रहा हूं, क्योंकि अमेरिकी अधिकारियों ने पूर्ण टीकाकरण करा चुके लोगों के लिए प्रतिबंधों में ढील दी है। हमें फिर भी सभी एहतियात बरतनी चाहिए।

अमेरिका में रहने वाले पेशेवर प्रीतम देशवाल भी प्रतिबंधों की वजह से भारत से अमेरिका नहीं जा पा रहे थे। देशवाल हवाई अड्डा डिजाइनर हैं। वे एयर इंडिया की उड़ान से अमेरिका रवाना हुए। उन्होंने कहा, मैं न्यूयॉर्क में रहता हूं तथा प्रतिबंधों के हटने से हमें दफ्तरों और स्थानों से फिर से जुड़ने में निश्चित रूप से मदद मिलेगी।


पिछले साल महामारी की शुरुआत के बाद से अधिकतर कंपनियों ने कर्मचारियों को घर से काम करने की इजाजत दी हुई है। इसमें डिजिटल प्रौद्योगिकी ने अहम भूमिका अदा की है। महिलाओं समेत अमेरिका जाने वाले अधिकतर यात्रियों ने कहा कि टीकाकरण के बाद से उनके आत्मविश्वास में बढ़ोतरी हुई है।

एक महिला ने नाम न जाहिर करने के आग्रह पर कहा, महामारी के प्रकोप के बाद से मैं पहली अंतरराष्ट्रीय उड़ान में सवार हो रही हूं। मैं अच्छा महसूस कर रही हूं। अमेरिकी कार्यकारी ब्रैड नुस सोमवार को अपने देश रवाना हो गए। उन्होंने उम्मीद जताई कि अंतरराष्ट्रीय यात्रा जल्द ही सामान्य होगी।

नुस ने कहा, महामारी ने दुनिया को बदल दिया है। भारत और अन्य जगहों पर टीकाकरण तेज होने और अमेरिका द्वारा यात्रा प्रतिबंधों को हटाने से मुझे लगता है कि यह चीजों के धीरे-धीरे सामान्य होने का संकेत है।(भाषा)



और भी पढ़ें :