बंगाल में Corona संदिग्ध डॉक्टर की मौत, 3 स्वास्थ्यकर्मियों की भी गई जान

पुनः संशोधित मंगलवार, 28 अप्रैल 2020 (19:22 IST)
कोलकाता। की राजधानी कोलकाता में कोरोना वायरस (कोविड-19) के संदिग्ध एक और स्वास्थ्यकर्मी की का मामला सामने आया है, जो पिछले तीन दिन में चिकित्साकर्मियों की कोरोना से संबंधित दूसरी मौत है।

आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि दक्षिण कोलकाता के एक प्रतिष्ठित निजी अस्पताल में कार्यरत 69 वर्षीय हड्डी रोग विशेषज्ञ कोविड-19 के संदिग्ध मरीज थे और साल्ट लेक स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती थे। उन्हें वेंटिलेंटर पर रखा गया। सूत्रों के अनुसार सोमवार रात उनकी मृत्यु हो गई। तीन दिन पहले भी इस जानलेवा विषाणु से यहां वरिष्ठ सरकारी चिकित्सक की मौत हुई थी।
सूत्रों ने बताया कि वह कोरोना वायरस के संदेह और अन्य बीमारियों के कारण 14 अप्रैल को अस्पताल में भर्ती हुए थे और 17 अप्रैल से वेंटिलेशन पर थे। वह कोलकाता के बोंडेल गेट में पूर्वी क्षेत्र के निवासी थे। स्वास्थ विभाग इसकी जांच कर रहा है कि की मौत कोविड-19 से हुई है या किसी अन्य वजह से। इससे पहले रविवार को मौलाली स्थित केंद्रीय मेडिकल स्टोर में अतिरिक्त निदेशक विप्लव दासगुप्ता की कोरोना से मृत्यु हुई थी।

इस बीच, पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा है कि यह समय राज्यपाल अथवा केंद्र सरकार से टकराव का नहीं है बल्कि मौजूदा स्थिति से निपटने का रास्ता निकालने का वक्त है। धनखड़ ने ट्वीट कर कहा कि हमारी जनता की चिंता हमारा विषय होना चाहिए, ना कि टकराव। (भाषा)



और भी पढ़ें :