पाकिस्तान में Corona से मृत्युदर 140 फीसदी तक बढ़ी, लॉकडाउन की चेतावनी

पुनः संशोधित बुधवार, 21 अक्टूबर 2020 (21:50 IST)
इस्लामाबाद। पाकिस्तान में कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के नियंत्रण के लिए किए जा रहे उपायों की निगरानी करने वाले शीर्ष निकाय ने बुधवार को चेतावनी दी कि अगर लोग सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों का उल्लंघन करना जारी रखेंगे तो को नियंत्रित करने के लिए सहित सख्त कदम उठाए जाएंगे। यह चेतावनी गत हफ्तों के मुकाबले से होने वाली मौतों की दर में 140 प्रतिशत वृद्धि के बाद दी गई है।
कोविड-19 से जुड़े मामलों को देखने के लिए गठित राष्ट्रीय कमान एवं संचालन केंद्र (एनसीओसी) ने बुधवार को एक बयान में कहा, एनसीओसी पूरी स्थिति की करीब से निगरानी कर रहा है। अगर मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) के अनुपालन में सुधार नहीं होता तो निकाय के पास सख्त कदमों को दोबारा लागू करने के अलावा कोई विकल्प नहीं होगा, जिसका नतीजा सेवाओं की दोबारा बंदी होगी।

जियो टीवी ने बयान के हवाले से बताया कि कोविड-19 के बढ़े मामलों की निगरानी के लिए योजना मंत्री असद उमर की अध्यक्षा में एनसीओसी के हुए विशेष सत्र में सूचित किया गया कि यह स्पष्ट है कि संक्रमण बढ़ रहा है और मौतें भी बढ़ रही हैं। सभी मुख्य सचिवों को एसओपी का कड़ाई से अनुपालन कराने का निर्देश दिया गया।

बयान में कहा गया, एसओपी का उल्लंघन करने पर दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।साथ ही मास्क पहनने और सामाजिक दूरी का अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा गया। उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान में गत 24 घंटे में कोविड-19 से 19 लोगों की हुई है, जिन्हें मिलाकर देश में अब तक महामारी से 6,692 लोगों की जान चुकी हैं।

एनसीओसी का बयान उमर के बयान के एक दिन बाद आया है जिसमें उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में कोविड-19 से पिछले हफ्ते 140 प्रतिशत बढ़ी और लोगों को सुरक्षा उपायों को नजरअंदाज करने पर चेतावनी दी।

उन्होंने मंगलवार रात को ट्विटर पर जारी पोस्ट में कहा, पिछले हफ्ते रोजाना कोविड-19 से होने वाली मौतों की दर 12 थी। यह पिछले कुछ हफ्तों के मुकाबले 140 प्रतिशत अधिक है। हम सभी मानक परिचालन प्रक्रिया (एसओपी) का बेपरवाही से उल्लंघन कर सामूहिक चूक कर रहे हैं जिसके नतीजे सामने आ रहे हैं। अगर हमने मौजूदा रास्ते को नहीं बदला तो हम जीवन और जीविकोर्पाजन दोनों को खो देंगे।

इस बीच, मंत्रिमंडल ने देश में कोविड-19 मरीजों की बढ़ती संख्या पर चिंता जताई है और लोगों को महामारी की दूसरी लहर आने की आशंका के मद्देनजर सभी एहतियात बरतने को कहा है।
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, गत 24 घंटे में 660 और लोगों के कोरोनावायरस से संक्रमित होने की पुष्टि होने के साथ देश में कोविड-19 मरीजों की संख्या बढ़कर 3,24,744 हो गई है जिनमें से 3,08,674 लोग ठीक हो चुके हैं, वहीं 559 लोगों की हालत गंभीर है।(भाषा)



और भी पढ़ें :