Corona की बढ़ती रफ्तार, महाराष्ट्र के जलगांव में 11 मार्च से जनता कर्फ्यू का ऐलान

curfew 22 march
 
Last Updated: मंगलवार, 9 मार्च 2021 (21:56 IST)
हमें फॉलो करें
में कोरोना की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए में तीन दिनों के लिए जनता कर्फ्यू लगाया गया है। जलगांव के जिलाधिकारी ने मंगलवार को ये आदेश जारी किया।

जारी आदेश में कहा गया है कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच महाराष्ट्र के जलगांव में तीन दिनों के लिए जनता कर्फ्यू लगाया गया है।


जनता कर्फ्यू के दौरान अत्यावश्यक सेवाओं को छोड़कर सबकुछ बंद रहेगा। जलगांव डीएम अभिजीत राउत ने जनता कर्फ्यू को लेकर नियमों के बारे में बताते हुए कहा कि जलगांव नगर निगम में 11 मार्च को रात 8 बजे से 15 मार्च को सुबह 8 बजे तक जनता कर्फ्यू लगाया गया है।

मुंबई में लॉकडाउन की आवश्यकता नहीं : कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के बावजूद मुंबई में स्थिति नियंत्रण में है और शहर में लॉकडाउन लागू करने की तत्काल कोई आवश्यकता नहीं है। यह बात मुंबई के वरिष्ठ अधिकारियों ने मंगलवार को कही। मुंबई में सोमवार को कोविड-19 के 1,008 नये मामले सामने आये जिससे संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 3,34,572 हो गए।

लॉकडाउन लगाने की संभावना के बारे में पूछे जाने पर नगर आयुक्त इकबाल चहल ने कहा कि ऐसा करने की तत्काल कोई आवश्यकता नहीं है। निकाय अधिकारियों के अनुसार मामलों में प्रतिदिन होने वाली वृद्धि जांच की संख्या में बढ़ोतरी का परिणाम है।

बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने जनवरी में की जाने वाली 11,000 से 15,000 जांच की संख्या बढ़ाकर वर्तमान में 20,000 से अधिक कर दी है। सोमवार को निकाय द्वारा 23,000 कोविड-19 जांच की गई।

एक निकाय अधिकारी ने कहा कि शहर में संक्रमित होने की दर छह प्रतिशत दर्ज की गई है, जो महाराष्ट्र के अन्य शहरों की तुलना में काफी कम है। अधिकारी ने कहा कि इस पर विचार करते हुए महानगर में लॉकडाउन लगाने की तत्काल आवश्यकता नहीं है।
अधिकारियों ने हालांकि, चेतावनी दी है कि यदि नागरिकों ने कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया तो निकाय कठोर कदम उठाने के लिए मजबूर हो सकता है। मीडिया से बीएमसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि शहर के अस्पतालों में कोविड-19 रोगियों के लिए लगभग 60 प्रतिशत बेड उपलब्ध हैं।



और भी पढ़ें :