Corona के कारण ICU में भर्ती ब्रिटिश प्रधानमंत्री जॉनसन की हालत स्थिर, फिलहाल वेंटिलेटर पर नहीं

Boris Johnson_Britain
पुनः संशोधित मंगलवार, 7 अप्रैल 2020 (21:20 IST)
लंदन। के लक्षणों की वजह से के सघन निगरानी कक्ष (ICU) में भर्ती ब्रिटिश प्रधानमंत्री की हालत स्थिर है और उन्हें सांस लेने के लिए की मदद की आवश्यकता नहीं है। ने प्रधानमंत्री के स्वास्थ्य के संबंध में यह जानकारी दी।
जॉनसन को सोमवार की रात आईसीयू में भर्ती किया गया था। उनकी हालत स्थिर है और उनमें निमोनिया के लक्षण नहीं मिले हैं।

कोविड-19 रोगियों की हालत गंभीर होने पर निमोनिया के लक्षण सामने आते हैं। डाउनिंग स्ट्रीट के प्रवक्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री की तबियत स्थिर है और उनका मानक ऑक्सीजन उपचार किया जा रहा है।

वे बिना किसी अन्य सहायता के सांस ले रहे हैं। जॉनसन में कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण लगातार नजर आने के बाद के सेंट थॉमस अस्पताल में रविवार रात को उन्हें नियमित जांच के लिए भर्ती कराया गया था लेकिन सोमवार को उनकी स्थिति बिगड़ने के बाद उन्हें आईसीयू में ले जाया गया।

ब्रिटेन के कैबिनट ऑफिस के मंत्री माइकल गोव ने मंगलवार सुबह कहा, प्रधानमंत्री को वेंटिलेटर पर नहीं रखा गया है। उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट दिया जा रहा है और उन्हें आईसीयू में रखने का एक कारण यह है कि उनकी मेडिकल टीम उनके लिए जो इलाज समुचित समझे, वह उन्हें उपलब्ध कराया जा सके।

जॉनसन में 12 दिन पहले कोरोना वायरस की पुष्टि हुई थी और वह डाउनिंग स्ट्रीट स्थित अपने आवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के खिलाफ सरकार की नीति की अगुवाई कर रहे थे। सोमवार को आईसीयू में भर्ती कराए जाने के बाद 55 वर्षीय जॉनसन ने ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोमिनिक राब को फिलहाल उनकी जगह लेने को कहा है।

अस्थायी प्रभार संभालने के बाद राब ने कहा कि सरकार का काम वैश्विक महामारी को हराने की जॉनसन की योजनाओं को आगे ले जाने पर केंद्रित होगा।

राब ने कहा, सरकार का कामकाज जारी रहेगा। प्रधानमंत्री सेंट थॉमस अस्पताल की उम्दा टीम की निगरानी में सुरक्षित हैं और सरकार का ध्यान कोरोना वायरस को हराने तथा देश को इस संकट से उबारने के लिए प्रधानमंत्री के निर्देशों, सभी योजनाओं को आगे बढ़ाने पर केंद्रित रहेगा। ‍

उन्होंने कहा कि जहां भी जरूरत होगी, वह जॉनसन के स्थान पर काम करेंगे। सरकार के मंत्रियों का साथ काम करने का यह भाव प्रदर्शित भी हुआ, जब जॉनसन की शीर्ष टीम ने सोशल मीडिया पर उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना की और उनकी गर्भवती मंगेतर कैरी साइमंड्स का सहयोग करने की प्रतिबद्धता जताई।

ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल ने ट्‍विटर संदेश में कहा, 'मेरा स्नेह एवं प्रार्थनाएं बोरिस जॉनसन और कैरी साइमंड्स तथा प्रधानमंत्री के परिवार के साथ है।'

भारतीय मूल के उनके कैबिनेट के वरिष्ठ सहयोगी चांसलर ऋषि सुनाक ने कहा, मेरी प्रार्थनाएं बोरिस जॉनसन और कैरी साइमंड्स के साथ हैं। मुझे पता है कि उनकी बहुत अच्छी देखभाल होगी और वह इससे और मजबूत होकर बाहर निकलेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ब्रिटेन के प्रधानमंत्री के स्वस्थ होने की कामना की। मोदी ने ट्वीट किया, 'डटे रहिए प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन। आपके बहुत जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से आने की कामना करता हूं।' अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि समस्त अमेरिकी उनके ठीक होने की प्रार्थना कर रहे हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) प्रमुख तेदरोस अदहानोम गेब्रेयसस ने भी जॉनसन के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है। फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि जॉनसन जल्द इस कठिन स्थिति से उबर जाएंगे।

यूरोपीय आयोग की प्रमुख उरसुला वोन डेर लेयन ने भी जॉनसन के जल्द एवं पूरी तरह ठीक होने की कामना की। उन्होंने ट्वीट किया, 'आज मेरी प्रार्थनाएं प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और उनके परिवार के लिए हैं।' दुनियाभर के कई नेताओं ने जॉनसन के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है। (भाषा)




और भी पढ़ें :