9 बजे 9 मिनट : जलाने थे दीये, लोगों ने पटाखे भी छोड़े, सोशल मीडिया पर गुस्सा

भाषा| Last Updated: सोमवार, 6 अप्रैल 2020 (07:55 IST)
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री के नरेन्द्र मोदी की अपील '9 बजे 9 मिनट' का पालन करते हुए लोगों ने अपने घरों में दीये जलाए। कई लोगों ने मोमबत्तियां और मोबाइल की फ्लैश लाइट भी जलाई, लेकिन देश की कई जगहों पर लोगों ने पटाखे भी जलाए। कई लोगों ने नारे भी लगाए।
ALSO READ:
Corona के रिकॉर्ड केस के बाद भोपाल टोटल लॉकडाउन, इन नंबरों पर कॉल कर घर पर मगाएं जरूरी सामान
लोगों ने प्रधानमंत्री की इस अपील को दिवाली का रूप दे दिया। पटाखे जलाने पर नाराजगी जताते हुए कई लोगों ने सोशल मीडिया पर अपने विचार रखे। सोशल मीडिया यूजर्स ने पटाखे फोड़ने और नारे लगाने वाले लोगों की वीडियो क्लिप और फोटो शेयर की।
जहां कुछ लोगों ने दीये के साथ अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर कीं तो वहीं कुछ लोगों ने इस अवसर पर पटाखे जलाने वालों की आलोचना की।

अरुण कुमार ने ट्विटर पर पटाखे जलाने वालों की चुटकी लेते हुए लिखा- के देश में आगमन की खुशी मनाते हुए देशवासी? बहुत अच्छे। दिव्यांगों के अधिकार के लिए काम करने वाले निपुण मल्होत्रा ​​ने लोगों से पटाखे न फोड़ने का आग्रह किया और उन्हें याद दिलाया कि यह कोई खुशी का मौका नहीं है। उन्होंने लिखा- दीया जलाओ। एकजुट रहो। लेकिन पटाखे? सच में? यह कोई पार्टी नहीं है!
कई केंद्रीय मंत्रियों और जानी-मानी हस्तियों ने अपने परिवार के सदस्यों के साथ मोमबत्तियां जलाते हुए वीडियो क्लिप और खुद की तस्वीरें शेयर कीं। (भाषा)



और भी पढ़ें :