शादी में 1 हजार लोगों की भीड़, विवाह स्थल संचालक और वर-वधु पक्ष पर साढ़े 9 लाख रुपए का जुर्माना

पुनः संशोधित मंगलवार, 6 जुलाई 2021 (00:14 IST)
रायपुर। छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले में एक में एक हजार से अधिक मेहमानों के एकत्र होने पर जिला प्रशासन ने विवाह स्थल को सील कर दिया है तथा कुल 9 लाख 50 हजार रुपए का जुर्माना लगाया है।
सरगुजा जिले के अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि वैवाहिक कार्यक्रम में एक हजार से अधिक लोगों की भीड़ जुटाकर कोरोनावायरस संबंधी नियमों का उल्लघंन पर जिलाधिकारी संजीव कुमार झा के निर्देश के बाद जिला प्रशासन ने विवाह स्थल (मैरिज हॉल) को सील कर दिया है तथा विवाह स्थल संचालक और वर-वधु पक्ष पर कुल नौ लाख 50 हजार रुपए का जुर्माना लगाया है।

अंबिकापुर के अनुविभागीय दण्डाधिकारी प्रदीप साहू ने बताया कि इस महीने की दो तारीख को शहर के चैरसिया मैरिज गार्डन में एक शादी हुई थी। जिला प्रशासन को जानकारी मिली थी कि शादी में बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हुए थे।
ALSO READ:

Good news : भविष्य में आम सर्दी-जुकाम जैसा बन सकता है Coronavirus
साहू ने बताया कि जब रविवार को इसकी जांच की गई, तब पता चला कि करीब एक हजार लोगों को एकत्रित कर कोरोनावायरस संबंधी दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करते हुए वैवाहिक कार्यक्रम का आयोजन कराया गया था। उन्होंने बताया कि जिले में वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 50 निर्धारित की गई है।
ALSO READ:
Vaccination : कोरोना वैक्सीन से पहले और बाद में बिल्कुल न करें ये 7 काम
इस वैवाहिक कार्यक्रम में कोरोनावायरस दिशानिर्देशों के उल्लंघन के कारण चैरसिया मैरिज गार्डन के संचालक वीरेन्द्र चैरसिया के खिलाफ चार लाख 75 हजार रुपए तथा विवाह कराने वाले वर के पिता सरोज साहू पर दो लाख 37 हजार रुपए और वधु के पिता प्रकाश साहू पर दो लाख 37 हजार रुपए का अर्थदंड लगाया गया है।

अधिकारी ने बताया कि अर्थदण्ड का भुगतान नगर निगम कार्यालय को देने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि सरगुजा जिला प्रशासन की रोकथाम को लेकर सख्त कदम उठा रहा है। नियमों को ताक पर रखकर वैवाहिक कार्यक्रम में अनुमति से अधिक संख्या में लोगों की भीड़ जुटाने पर विवाह स्थल के संचालक और वर-वधु पक्ष पर कार्रवाई की गई है।(भाषा)



और भी पढ़ें :