उत्तर प्रदेश : 20 दिनों में AMU के 16 प्रोफेसरों समेत 44 लोगों की Corona से मौत

Last Updated: बुधवार, 12 मई 2021 (10:53 IST)
नई दिल्ली। के अलीगढ़ स्थित अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में बीते 20 दिनों के भीतर 44 लोगों की कोरोना से हो चुकी है। इनमें 26 प्रोफेसर्स भी शामिल हैं। कोरोना के कारण मरने वाले इन प्रोफेसर्स में 16 वर्किंग और 10 रिटायर्ड हैं।
खबरों के मुताबिक, यूनिवर्सिटी ने संदेह जताया है कि यहां कोरोना का कोई नया वेरिएंट हो सकता है। एएमयू के कुलपति तारिक मंसूर के भाई की भी कोरोना से मौत हो चुकी है। कुलपति ने यहां से लिए गए सैंपल की जांच के लिए आईसीएमआर से आग्रह किया है।

एकत्र किए गए इन सैंपल को जांच के लिए दिल्ली में सीएसआईआर इंस्टीट्यूट ऑफ जिनॉमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायॉलजी भेजा गया है।आईसीएमआर की ओर से इस पर फिलहाल कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है। सोमवार देर रात आईसीएमआर के महानिदेशक ने एएमयू के कुलपति से बात की थी और उन्हें आश्वासन दिया था कि एएमयू से दिल्ली में केंद्रीय प्रयोगशाला में भेजे गए नमूनों की जांच की जा रही है।

विश्वविद्यालय परिसर में रहने वाले जिन प्रोफेसर की कोरोना के कारण मृत्यु हुई है उनमें पोस्ट हार्वेस्ट इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर मोहम्मद अली खान, राजनीति विज्ञान विभाग के प्रो. काजी मोहम्मद जमशेद, मनोविज्ञान विभाग के अध्यक्ष प्रो. साजिद अली खान, संग्रहालय विभाग के अध्यक्ष मोहम्मद इरफान, महिला अध्ययन केंद्र के डॉ. अजीज फैसल, इतिहास विभाग के डॉ. जिबराइल, अंग्रेजी विभाग के डॉ. मोहम्मद यूसुफ अंसारी, उर्दू विभाग के डॉ. मोहम्मद फुरकान संभली और जूलॉजी विभाग के प्रोफेसर सैयद इरफान अहमद शामिल हैं।
ALSO READ:
से जीतना है तो शामिल कर लीजिए इन 10 बातों को अपनी life में
इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने मंगलवार को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति से फोन पर वार्ता कर विश्वविद्यालय के मेडिकल कॉलेज में भर्ती मरीजों तथा वहां कार्यरत चिकित्सकों और अन्य कर्मचारियों के बारे में जानकारी ली थी।



और भी पढ़ें :