कोरोना ड्यूटी में लगे डॉक्टर्स के लिए कॉमेडियन सुनील पाल ने किया अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल, FIR दर्ज

Last Updated: गुरुवार, 6 मई 2021 (14:32 IST)
कॉमेडियन और एक्टर सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। वह फैंस के साथ अक्सर वीडियो शेयर करते रहते हैं। बीते दिनों उन्होंने कोरोना काल में जिस तरह से डॉक्टर काम कर रहे हैं, उसके प्रति अपनी नाराजगी जाहित करते हुए एक वीडियो पोस्ट किया था।

इस वीडियो में सुनील पाल ने डॉक्टरों की कार्य प्रणाली पर कई सवाल उठाए थे। इस वीडियो में सुनील ने डॉक्टरों के खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग भी किया था। जिसकी वजह से कॉमेडियन की मुसीबतें बढ़ गई है। डॉक्टर्स के खिलाफ आपत्तिजनक शब्द का इस्तेमाल करने की वजह से उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई है।

खबरों के मुताबिक मुंबई के अंधेरी पुलिस स्टेशन में 4 मई को सुनील पाल के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। असोसिएट ऑफ मेडिकल कंसल्टेंट की प्रेसिडेंट डॉक्टर सुष्मिता भटनागर ने यह शिकायत दर्ज कराई है। डॉक्टर सुधीर नाईक ने बताया है कि डॉक्टर भटनागर ने यह वीडियो 20 अप्रैल को पहली बार देखा था।
बता दें कि वीडियो में पाल कह रहे हैं, डॉक्टर भगवान का रूप होते हैं, लेकिन 90 प्रतिशत डॉक्टरों ने बुरा स्वरूप ले लिया है और वे ढोंगी होते हैं। गरीब लोगों को कोविड के नाम पर पूरे दिन डराया जा रहा है, उन्हें यह कह कर अपमानित और प्रताड़ित किया जा रहा है कि कोई बिस्तर, प्लाज्मा, दवा नहीं है, ये नहीं है वो नहीं है।

शिकायत दर्ज होने के बाद सुनील पाल के सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर करके माफी भी मांगी है। उन्होंने कहा कि यह वीडियो मैं माफी मांगने के लिए शेयर कर रहा हूं अगर मेरी बातों से किसी को आहत पहुंची हो तो माफी चाहता हूं लेकिन मैं अभी भी अपने कमेंट के साथ खड़ा हूं कि डॉक्टर्स को भगवान माना जाता है। मगर इस मुश्किल समय में गरीब इंसान परेशान हो रहा है।
उन्होंने कहा, मैंने अपने वीडियो में 90 प्रतिशत डॉक्टर्स को दानव का रुप धारण कर लेना कहा है, बचे हुए 10 प्रतिशत डॉक्टर्स अभी भी अपनी ड्यूटी अच्छे से कर रहे हैं। डॉक्टर्स को बुरा मानने की जरुरत नहीं हैं जो अपना काम ईमानदारी से कर रहे हैं।




और भी पढ़ें :