बॉक्स ऑफिस पर इस सप्ताह 3 फिल्मों में घमासान, तान्हाजी-छपाक-दरबार में कौन मारेगा बाजी?

समय ताम्रकर| Last Updated: बुधवार, 8 जनवरी 2020 (11:27 IST)
इस सप्ताह तीन बड़ी फिल्मों का प्रदर्शन होने जा रहा है। की महत्वाकांक्षी फिल्म 'तान्हाजी- द अनसंग वॉरियर', की मुद्दापरक फिल्म 'छपाक' और मेगास्टार की मसाला फिल्म 'दरबार' आपस में टकराएंगी। इनमें से 9 जनवरी यानी गुरुवार को रिलीज हो रही है और इसके अगले दिन अन्य फिल्मों का प्रदर्शन होगा।



सबसे ज्यादा दर्शक मिलेंगे तान्हाजी को
तीनों ही फिल्में बहुत अहम है। अजय देवगन स्क्रीन पर ऐतिहासिक कहानी बताने जा रहे हैं जो एक ऐसे योद्धा की है जिसके बारे में ज्यादा लोग नहीं जानते हैं। अजय, सैफ, काजोल जैसे दमदार सितारे, थ्री-डी इफेक्ट्स, भव्य सेट के बूते पर वे दर्शकों को आकर्षित करने का सोच रहे हैं।

फिल्म का ट्रेलर पसंद तो किया गया, लेकिन ऐसा प्रभाव नहीं पैदा कर सका कि दर्शक पहले शो से ही फिल्म देखने का मन बना ले। उनकी फिल्म को लेकर उत्सुकता है, लेकिन शायद वे रिपोर्ट आने का इंतजार करे। लिहाजा फिल्म को वैसी ओपनिंग नहीं मिलेगी जैसी कि इस तरह की फिल्मों को मिलना चाहिए। वैसे यह बात तय है कि तीनों फिल्मों में सबसे ज्यादा दर्शक इस फिल्म को ही मिलने वाले हैं।



को बड़े शहरों में मिल सकते हैं दर्शक
छपाक के बारे में साफ है कि यह किस तरह की फिल्म है। इसमें उन लड़कियों के जज्बे और संघर्ष की कहानी है जिन पर तेजाब फेंक दिया जाता है। ऐसे चेहरे के साथ दुनिया का सामना करने के लिए बहुत हिम्मत चाहिए। फिल्म के ट्रेलर ने स्पष्ट कर दिया है कि यह किस तरह की फिल्म होगी। ऐसे विषय पर बनी फिल्म देखना हर किसी के बस की बात भी नहीं है।

फिल्म का निर्देशन मेघना गुलजार ने किया है जिन्होंने 'तलवार' और 'राजी' से चौंकाया था। संभव है कि वे इस बार भी बात को कुछ इस अंदाज में पेश करें कि फिल्म को क्रिटिक्स की सराहना के साथ-साथ पर भी कामयाबी मिले। छपाक की ओपनिंग बड़े शहरों के मल्टीप्लेक्स में अच्छी हो सकती है, लेकिन छोटे शहरों में फिल्म को संघर्ष करना पड़ सकता है। यह फिल्म माउथ पब्लिसिटी पर बहुत ज्यादा निर्भर करेगी।



मसाला फिल्म दरबार
दरबार मसाला फिल्म हैं जिसमें रजनीकांत है। इस फिल्म का जोर दक्षिण भारत में ज्यादा होगा बजाय उत्तर भारत के। लेकिन छोटे शहर और सिंगल स्क्रीन सिनेमाघरों में फिल्म को अच्‍छे दर्शक मिल सकते हैं।
फिल्म का निर्देशन एआर मुरुगदास ने किया है जिन्हें हिंदी भाषी दर्शक गजनी, अकीरा और हॉलिडे जैसी फिल्मों के लिए जाने जाते हैं। कमर्शियल फिल्म नए अंदाज में बनाए जाने के लिए वे मशहूर हैं और वे इस फिल्म को देखने के लिए बड़ा कारण है। अन्य दोनों फिल्मों के मुकाबले दरबार एक दिन पहले रिलीज हो रही है लिहाजा थोड़ा फायदा फिल्म को मिल सकता है।

गुड न्यूज की भी रहेगी चुनौती
तीनों फिल्मों को अक्षय कुमार और करीना कपूर खान की 'गुड न्यूज' की भी जबरदस्त चुनौती रहेगी। यह फिल्म अभी भी सिनेमाघरों में अच्छा प्रदर्शन कर रही है और तीसरे सप्ताह में भी इस फिल्म को शो और स्क्रीन मिलेंगे। साथ ही दर्शक भी।

कुल मिलाकर अलग-अलग अंदाज और विषय की फिल्में हैं और दर्शकों के सामने विकल्प हैं।




और भी पढ़ें :