भोजपुरी सितारे खेसारी लाल यादव बिग बॉस 13 में क्यों रहे फेल?

पुनः संशोधित शनिवार, 23 नवंबर 2019 (13:04 IST)
बिग बॉस ने अचानक प्रतियोगियों के सामने सवाल रख दिया कि घर में मौजूद किस सदस्य का शो में योगदान सबसे कम है? दो नाम सामने आए- रश्मि देसाई और खेसारी लाल यादव। ज्यादातर ने भोजपुरी फिल्म के सितारे खेसारी का नाम लिया।

बिग बॉस ने यह कह कर चौंका दिया कि यह घर से बेघर करने की प्रक्रिया थी और खेसारी को इसी समय शो छोड़ना होगा। खेसारी घर से बाहर हो गए लेकिन यह सवाल छोड़ गए कि वे इस शो में क्यों नहीं टिक पाए? आखिर बिग बॉस को अचानक उन्हें बाहर करने की जरूरत क्या पड़ी?

घरवालों की इस बात से सहमत हुआ जा सकता है कि खेसारी का शो में बिलकुल योगदान नहीं था। न वे मनोरंजन कर पा रहे थे और न ही फटे में पैर डाल रहे थे जो कि इस शो में बने रहने के लिए अत्यंत जरूरी है।

गुमसुम से वे बैठे रहते थे। कुछ पूछा जाता था तभी बोलते थे। कई बार तो शो में दिखाई भी नहीं देते थे। आखिर इसकी क्या वजह रही?

दरअसल खेसारी लाल इस शो और हाउसमेट्स से तालमेल नहीं बैठा पाए। वे शो में जब आए थे तब भाईचारा, संस्कार, प्रेम और विश्वास की बातें किया करते थे। उनकी इन बातों का जम कर मजाक बनाया गया। सिद्धार्थ शुक्ला ने साफ कह दिया कि ज्ञान मत बांटो। इससे खेसारी बैकफुट पर आ गए।

वे इंफीरियर कॉम्प्लेक्स से भी ग्रस्त नजर आए। भोजपुरी फिल्मों के वे बड़े सितारे हैं। में जितने भी लोग हैं उनमें सबसे बड़े सितारे खेसारी ही थे, लेकिन खेसारी इन लोगों को अपने से बड़ा मानने की गलती कर बैठे।
मुंबई के टीवी सितारों की जीवनशैली, सोच और अंग्रेजी से खेसारी भयभीत हो गए और अपने को कमतर मान बैठे। उन्होंने इनका मुकाबला करने के बजाय हथियार डाल दिए। साथ ही वे इस लड़ाई-झगड़े को देख कर भी हैरान रह गए कि ये पढ़े-लिखे लोग भी इस स्तर पर आकर तू-तू-मैं-मैं करते हैं।

बिग बॉस के मेकर्स ने जब देखा कि खेसारी शो में योगदान देने के मामले में फिसड्डी हैं तो उन्होंने ही ऐसा जाल बुना कि खेसारी फंस जाए। खेसारी को को प्रतिदिन महंगी फीस दी जा रही थी और उसके बदले में वे कुछ भी नहीं दे रहे थे। बताया जा रहा था उन्हें वोट तो अच्छे मिल रहे थे इसलिए बिग बॉस ने उन्हें इस तरह बाहर कर महंगे सितारे से छुटकारा पाया।



और भी पढ़ें :