अजब मल्लिका, गजब मल्लिका

Mallika
IFM
‘अगली और पगली’ की असफलता ने मल्लिका को दिन में तारे दिखा दिए हैं। इस फिल्म के प्रचार में उन्होंने बिलकुल भी नहीं सहयोग किया था। उन्हें उम्मीद थी कि पोस्टर पर उनके चेहरे और नाम को देखकर ही भीड़ सिनेमाघर में टूट पड़ेगी, लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

मल्लिका की अक्ल अब ठिकाने आ गई है और वे अपनी अगली फिल्म ‘मान गए मुगल-ए-आजम’ के प्रचार में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रही हैं। इसके दो कारण हो सकते हैं। एक तो इस फिल्म के निर्माता रतन जैन ने मल्लिका को मुफ्त में सैर करवाई, इसलिए उनके अहसान तले दबी मल्लिका प्रचार में हिस्सा ले रही हैं। दूसरा मल्लिका को बॉलीवुड में पैर जमाए रखना है और उनके लिए इस‍ फिल्म की सफलता जरूरी है।

मल्लिका को नजर आई थीं ‘मधुबाला’
’मान गए मुगल-ए-आजम’ में मल्लिका एक नाटक कंपनी में काम करती हैं। नाटक में वे अनारकली का चरित्र निभा रही हैं। यही चरित्र स्वर्गीय मधुबाला ने ऐतिहासिक फिल्म ‘मुगल-ए-आजम’ में निभाया था। ‘प्यार किया तो डरना क्या...’ जैसा सुपरहिट गीत इस फिल्म के लिए मल्लिका पर फिल्माया गया है। जब इस गाने की शूटिंग चल रही थी तब ब्रेक के दौरान मल्लिका आराम करने अपनी वैन में चली गईं और उनकी आँख लग गई। कुछ देर बाद मल्लिका शूटिंग के लिए लौटी और उन्होंने कहा कि वैन के अंदर उन्हें मधुबाला नजर आई थीं। मल्लिका सच कह रही हैं या झूठ ये तो वे ही जानें, लेकिन ज्यादातर लोगों का कहना है कि पब्लिसिटी स्टंट करने में मल्लिका का कोई जोड़ नहीं है।

स्टार्स ने बनाई दूरी
समय ताम्रकर|
बॉलीवुड में टिके रहने के लिए नायिकाएँ आमतौर पर स्टार नायकों के साथ काम करती हैं, क्योंकि इन नायकों की फिल्म हिट रहने की संभावना अधिक होती है। पता नहीं क्यों मल्लिका के साथ बॉलीवुड के बड़े स्टार काम करना पसंद नही करते। मल्लिका को कुछ फिल्में ए-ग्रेड के नायकों के साथ मिली भी थीं, लेकिन उन नायकों ने मल्लिका का नाम सुनते ही उन्हें फिल्म से बाहर करवा दिया। मल्लिका को लगता है ये तथाकथित बड़े नायक उनसे डरते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि फिल्म में मल्लिका छा जाएँगी। अब इसे मल्लिका का अति आत्मविश्वास कहा जाए या खिसियाहट।



और भी पढ़ें :