सारे जहां से अच्‍छा हिन्दुस्तान हमारा, है यहां पर सबकुछ, जाना नहीं कहीं ओर

अनिरुद्ध जोशी| Last Updated: गुरुवार, 11 अगस्त 2022 (15:36 IST)
हमें फॉलो करें
15 august independence day: भारत में सबकुछ है। दुनिया में ऐसा देश कोई दूसरा नहीं। यहां हजारों हरेभरे पहाड़ है, तीनों ओर हजारों किलोमीटर की समुद्री तट रेखा है, जिसमें हजारों टापू और बीच हैं। यहां हिमालय है और बर्फ के क्षेत्र भी हैं तो दूसरी ओर तपते रेगिस्तान भी। यहां हजारों झीलें और नदियां हैं। यहां पर क्या क्या रहै आजो जानते हैं।


1. पर्वत : भारत में हिमालय और ऊंचे-ऊंचे अन्य पर्वत है। इतने ऊंचे पर्वत जो विश्‍व में कहीं नहीं देखने को मिलेंगे। माउंट एवरेस्ट के बाद भारत में कंचनजंगा, नंदादेवी, नंगा पहाड़ का नंबर आता है और इसी के समानांतर अन्य कई पहाड़ हैं। यह सभी पर्वत हमारे लिए संतरी की तरह खड़े हैं। यदि आप सबसे खतरानक और ऊंचे पहाड़ों की सेर करना चाहते हैं तो चले जाएं उत्तराखंड, हिमाचल, कश्मीर, लद्दाख, सिक्किम और अरुणाचल।
2. रेगिस्तान : भारत में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा रेगिस्तान है। राजस्थान के हनुमानगढ़, बीकानेर, जोधपुर, जैसलमेर और बाड़मेर में है रेगिस्तान। इसे थार रेगिस्तान कहते हैं जिसका 61 प्रतिशत भाग भारत में और बाकी पाकिस्तान में है। भारत में यह गुजरात, हरियाणा और पंजाब की सीमाओं तक फैला है। इसके अलावा गुजरात का कच्छ का रण जिसके रेगिस्तान को सपेद नमक का रेगिस्तान कहते हैं।

3. नदियां : भारत में दुनिया की सबसे ज्यादा नदियां बहती हैं। यह अनगिनत नदियों का देश है तभी तो कहते हैं कि गोदी में खेलती है जिसकी हजारों नदियां। गंगा, यमुना, सिंधु, झेलम, कृष्णा, कावेरी, गोदावरी, गोमती, महानदी, नर्मदा, क्षिप्रा, सरयू और ब्रह्मपुत्र ये तो बड़ी नदियां हैं परंतु इनकी सहायक नदियां हजारों हैं।
4. समुद्र : भारत ही एक मात्र ऐसा देश है जिसके तीन ओर समुद्र है और जिसकी हजारों किलोमीटर की तट रेखा है। यहां गोवा से लेकर केरल और बंगाल से लेकर तमिलनाडु तक हजारों बीचेस हैं। भारत के एक और बंगाल की खाड़ी, दूसरी ओर अरब की खाड़ी जिसे सिंधु सागर कहते हैं और तीसरी ओर हिन्द महासागर है। इन क्षेत्रों में हजारों टापू या द्वीप हैं, जहां जाकर रोमांच का अनुभव होगा।
5. जंगल : भारत में सबसे भयानक और घने जंगलों की संख्या भी कम नहीं है, जैसे सुंदरवन, कान्हा किसली, जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क, पन्ना टाइगर रिजर्व, सरिस्का, रणथम्भौर, गिरवन, बांदीपुर नेशनल पार्क कर्नाटक, काजीरंगा राष्ट्रीय अभयारण्य, अबूझामड़, अंडमान निकोबार के जंगल आदि सैंकड़ों जंगल है। आपको जंगल की सैर करने के लिए अफ्रीका जाने की जरूरत नहीं।
6. बर्फबारी बर्फ के क्षेत्र : योरप, रशिया या ध्रुवों पर जमी बर्फ को देखने के लिए लोग टूर प्लान करते हैं लेकिन आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं भारत में कश्मीर, हिमाचल, लद्दाख, सिक्किम, अरुणाचल चले जाएं वहां पर बर्फ का आनंद उठा सकते हैं। यहां की बर्फबारी जरूर देखें। स्विट्जरलैंड से कहीं ज्यादा अच्‍छी जगहें हैं।

7. बारिश : दुनिया में सर्वाधिक बारिश भारत में ही होती है। भारत में भी यदि आप बारिश का आनंद लेना चाहते हैं तो मेघालय चले जाएं वहां पर चेरापूंजी और मॉसिनराम में 12 माह बारिश होती है।
8. झरने : यदि आप झरनों को देखने का शौक रखते हैं तो भारत में आपको हजारों ऐसे झरने मिल जाएंगे जो दुनिया में नहीं देखने को नहीं मिलेंगे। विश्‍व के सबसे बड़े झरने भारत में ही हैं। जैसे दूधसागर, कुंचिकल, बरेहीपानी, लांगशियांग, नोहकालीकई आदि। इसी के साथ धुआंधार, तलाकोना, चचाई चित्रकूट का झरना देखकर दंग रह जाएंगे।

9. रहस्यमयी गुफाएं : भारत में बहुत सारी प्राचीन गुफाएं हैं, जैसे बाघ की गुफाएं, अजंता- एलोरा की गुफाएं, एलीफेंटा की गुफाएं और भीम बेटका की गुफाएं आदि हजारों गुफाएं हैं जिन्हें देखने का रोमांच है। इसकी के साथ ही दुनिया की सबसे लंबी और गहरी गुफाओं को देखना हो तो आप मेघालय चलें जाएं। वहां हजारों प्राकृति गुफाओं को देखने दूर दूर से लोग आते हैं।
elephanta caves
10. 90 हजार वर्षों से बरकरार है अस्तित्व : ज्ञात रूप से भारतवर्ष करीब 20 हजार वर्षों पूर्व भी विद्यमान और आज भी है, परंतु पौराणिक कथाओं और अन्य तथ्‍यों के आधार पर यह 90 हजार वर्षों से विद्यमान है। इस देश के साथ के मिस्र, यूनान, मकदूनिया, ईरान, आदि कई देशों की सभ्यताएं मिट गई लेकिन आज भी भारत है। हम पर कई आक्रमण हुए लेकिन हमने किसी पर कभी आक्रमण नहीं किया फिर भी हमारा नामोनिशाँ अभी तक बाकी है। सदियां हमारी दुश्मन रही है और वे दुश्‍मन अब नहीं रहे लेकिन हम अभी भी हैं। कुछ बात है कि हस्ती मिटती नहीं हमारी सदियों रहा है दुश्मन दौर-ए-ज़माँ हमारा।
Golden  tempal
11. बहुधर्मी देश : भारत एक बहुधर्मी देश है फिर भी हम सभी मिलजुलकर रहते हैं क्योंकि हमारा मजबह हमें नहीं सिखता आपस में बैर रखना। बाद में हिन्दू, मुसलमान, ईसाई, सिख, बौद्ध या जैन हैं पहले आज भी हिन्दी हैं हम, वतन है हिन्दुस्तान हमारा। सभी भारतीय हैं और भारतीय ही रहेंगे। जब राष्ट्र की बात आती है तो सभी एकमत होकर खड़े हो जाते हैं और एक दूसरे की मदद करते हैं। भारत से बाहर कोई कहीं भी चला जाए लेकिन उसके दिल वतन में ही रहता है क्योंकि भारत प्यारा देश दुनिया में कहीं नहीं है। इसीलिए सारे जहाँ से अच्‍छा हिन्दुस्तान।
12. मंदिर : यहां पर हजारों ऐसे प्राचीन मंदिर है जिन्हें देखकर आप दांतों तले अंगुलियां दबा लेंगे। जैसे कैलाश मंदिर, कोणार्क का मंदिर, जगन्नाथ का मंदिर, मीनाक्षी मंदिर आदि। इसके साथ ही हजारों ऐसे चमत्कारिक मंदिर है जिनके चमत्कार को आज तक विज्ञान भी सिद्ध नहीं कर पाया है। जैसे कालभैरव का मंदिर, तिरुपति बालाजी मंदिर, सबरीमाला मंदिर, कामाख्या मंदिर, जगन्नाथ मंदिर आदि। इसी के साथ कई चमत्कारिक स्थान भी है।



और भी पढ़ें :