आपके कार के सफर को सुरक्षित बनाएगा सरकार एक बड़ा फैसला, 1 अप्रैल से हो सकता है लागू

Last Updated: शुक्रवार, 5 मार्च 2021 (23:53 IST)
आपके कार को सुरक्षित बनाने के लिए सरकार एक बड़ा फैसला लेने जा रही है। खबरों के अनुसार नए वित्त वर्ष से सभी पैसेंजर कारों में एयरबैग को आवश्यक करने जा रही है। नए नियम के मुताबिक हर गाड़ी में ड्राइवर के साथ साथ को-पैसेंजर साइड में भी एयरबैग देना अनिवार्य होगा। हालांकि कुछ कंपनियों के में फ्रंट की दोनों सीटों के लिए एयरबैग आते हैं। खबरों के मुताबिक कानून मंत्रालय ने सड़क और परिवहन मंत्रालय के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।
ALSO READ:
नई सुविधा : Fastag का टोल-टैक्स के अलावा पेट्रोल-डीजल और पार्किंग में भी सकेंगे प्रयोग
सामने बैठे लोगों के दुर्घटना में घायल होने या जान जाने की आशंका अधिक होती है। ऐसे में एयरबैग के होने से निश्चित तौर पर ज्यादा सुरक्षा मिलेगी। मौजूदा समय में सभी कारों में सिर्फ ड्राइवर सीट के लिए अनिवार्य है, लेकिन साथ में बैठ यात्री के लिए एयरबैग जरूर नहीं है, जिससे दुर्घटना के वक्त गंभीर चोट और मौत का भी डर रहता है।
अधिसूचना जारी : सरकार ने वाहनों की आगे की सीट के यात्रियों के लिए एयरबैग को अनिवार्य कर दिया है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया कि एयरबैग के अनिवार्य प्रावधान के संबंध में गजट अधिसूचना जारी कर दी गई है।

बयान में कहा गया है कि वाहनों में आगे ड्राइवर की सीट के साथ बैठने वाले यात्रियों के लिए एयरबैग को अनिवार्य करने के संबंध में गजट अधिसूचना जारी कर दी गई है। यह एक महत्वपूर्ण सुरक्षा उपाय है। उच्चतम न्यायालय की सड़क सुरक्षा पर समिति ने इसके बारे में सुझाव दिया था।

मंत्रालय ने कहा कि अप्रैल, 2021 के पहले दिन या उसके बाद विनिर्मित नए वाहनों में आगे की सीट के लिए एयरबैग जरूरी होगा। वहीं पुराने वाहनों के संदर्भ में 31 अगस्त, 2021 से मौजूदा मॉडलों में आगे की ड्राइवर की सीट के साथ एयरबैग लगाना अनिवार्य होगा। इस कदम से दुर्घटना की स्थिति में यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित हो सकेगी।
कार में अतिरिक्त फीचर देने के चलते कारों की कीमत बढ़ सकती है। ऑटोमोबाइल विशेषज्ञों के मुताबिक एयरबैग की कीमत का बोझ कंपनियां ग्राहकों पर ही डालेगी। इसके अनुसार नया एयरबैग जोड़ने से कार की लागत में 40 हजार से 1 लाख रुपए तक की बढ़ोतरी हो सकती है।



और भी पढ़ें :