तेरा वजूद

WD| पुनः संशोधित शनिवार, 31 अगस्त 2013 (18:20 IST)
FILE
ज़िंदा है मेरी रूह में तेरा वजूद भी,
तुझको भी ज़ख्‍़म आएंगे, पत्‍थर न मार दोस्‍त।

-ज़फ़र गोरखपुरी



और भी पढ़ें :