'सीमा' को लेकर समझौता नहीं-एंटोनी

जबलपुर| भाषा| पुनः संशोधित शनिवार, 22 सितम्बर 2012 (17:44 IST)
FILE
रक्षामंत्री एके एंटोनी ने कहा कि ऐसी कोई परिस्थितियां नहीं हैं कि भारतीय सीमा को लेकर किसी प्रकार का कोई समझौता किया जा सके।

एंटोनी ने कहा कि हमारे चीन और के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध हैं और लगातार हम उनके साथ बातचीत भी कर रहे हैं, लेकिन इसका यह मतलब नहीं कि भारत के नक्शे में परिवर्तन के लिए कुछ भी किया जाए।

उन्होंने बताया कि देश में 39 आयुध निर्माण फैक्‍टरियां हैं और सभी सेना को शस्त्र उपलब्ध कराने में अच्छा काम कर रहीं हैं। वे यहां गन कैरिज फैक्‍टरी में एक संयंत्र की आधारशिला रखने आए हैं। इस संयंत्र में 155 एमएम की बंदूकों का निर्माण होगा। इस संयंत्र में बनने वाली बंदूकों को 2013 में सेना को उपलब्ध कराया जाएगा।
यह पूछे जाने पर कि यदि इस संयंत्र में बनने वाली बंदूकों के निर्माण में देरी हुई तो, एंटोनी ने तपाक से कहा कि कभी नहीं से देर भली।

उन्होंने किसी भी राजनीतिक सवाल का जवाब देने से इनकार करते हुए कहा कि वे यहां रक्षा संबंधी मामलों पर चर्चा के लिए आए हैं तथा इसके अलावा आज और कुछ नहीं।

एंटोनी ने कहा कि आयुध निर्माण संयंत्रों के आधुनिकीकरण की योजना बनाई गई है। (भाषा)



और भी पढ़ें :