बिल्लियों के बारे में रोचक और विचित्र जानकारियां...

WD|
FILE
मानव सभ्यता की शुरुआत में जिन कारणों से कुत्तों को पालतू बनाया गया था ल‍गभग उन्हीं कारणों से मनुष्यों ने अपने लाभ के लिए बिल्लियों को पालतू बनाया था। खेती के प्रारंभिक दिनों में लोगों को कई विभिन्न कारणों से नुकसान हो जाता था। चूहे उसकी फसलों को खा जाते थे और घरों की बहुत सारी चीजों को बरबाद कर देते थे।

चूहों के अलावा सांप, उल्लू और बिल्लियों जैसे प्राणी भी थे। इन प्राणियों में बिल्लियां सबसे ज्यादा मित्रवत थीं और उन्होंने मनुष्यों के साथ रहना शुरू कर दिया। कीड़े-मकोड़ों को नष्ट करने की क्षमता के कारण उन्हें मनुष्यों की रिहायशी ‍बस्तियों में आसानी से शरण मिली।

* बि‍ल्ली को करीब 10 हजार वर्ष पहले अफ्रीकी जंगली बिल्ली से पालतू बनाया गया था। यह शुरुआत मध्य-पूर्व में हुई थी और बाद में सारी दुनिया में फैल गई और बिल्ली एक बार घर में आई तो घरेलू बनकर रह गई। दुनिया की कुछ संस्कृतियों में इसे देवताओं की तरह पूजा जाता है तो कुछ में इन्हें बुराई का प्रतीक माना जाता है।
* जिन लोगों के घरों में मादा बिल्ली रहती है, शायद उन्हें भी इसके उत्तेजित होने के बारे में जानकारी नहीं होती है। इतना ही नहीं, इनकी इच्छाशक्ति के कारण इन्हें जबर्दस्त तकलीफ से भी गुजरना पड़ता है। अपने प्रेमियों से मिलने के लिए यह आवाज लगाती है ‍और नर बिल्लियों को इसके साथ समागम करने का मौका मिलता है।

सेक्स के दौरान बिल्ली झेलती है काफी तकलीफ...पढ़ें अगले पेज पर...




और भी पढ़ें :