1. लाइफ स्‍टाइल
  2. »
  3. नायिका
  4. »
  5. ब्यूटी केयर टिप्स
Written By WD

प्राकृतिक गुणों वाले घरेलू सौंदर्य प्रसाधन

अपर्णा मजूमदा

NDND
सौंदर्य निखारने के लिए हमेशा से कॉस्मेटिक्स की बाढ़ इसी तरह आई हो ऐसा नहीं है। पुराने जमाने में अधिकांश महिलाएँ घरेलू सौंदर्य प्रसाधनों यथा काली मिट्टी, छाछ, हल्दी, फलों के रस, मुल्तानी मिट्टी आदि का सहारा लेती थीं। ये चीजें आज भी सहज उपलब्ध और कारगर हैं।

क्लींजर :
चार चम्मच दही व एक-दो चम्मच नींबू का रस अच्छे से मिला लें। इसे रुई के सहारे चेहरे व गर्दन पर नीचे से ऊपर की ओर लगाएँ फिर रुई से साफ कर लें। यह ऑइली स्कीन के लिए अच्छा क्लींजर है।

एस्ट्रिजेंट :
चार चम्मच खीरे का रस व दो चम्मच गाजर का रस अच्छे से मिला लें। यह एक बढ़िया फ्रेशनर का काम करेगा।

हैंड एंड बॉडी लोशन :
गुलाब जल, दो चम्मच ग्लिसरीन, आधा चम्मच सिरका, आधा चम्मच शहद, सभी को अच्छे से मिलाकर शीशी में भरकर रख लें। नहाने के बाद हाथ व सारे शरीर पर लगाएँ। इससे त्वचा साफ व मुलायम बनी रहेगी।

हेयर डाई :
आँवला 25 ग्राम, ब्राह्मी बूटी 55 ग्राम, दोनों को एक लीटर पानी में 24 घंटे भिगोकर रखिए। एक किलो तिल के तेल में आँवला और ब्राह्मी वाला पानी हाथ से मसलें और छानकर तेल में डालकर इतना गर्म करें कि पानी सूख जाए। तेल को ठंडा कर शीशी में भरकर रख लें।

इसके अलावा रोजाना रात को एक-एक चम्मच आँवला, हरड़ और बहेड़ा को 750 मिली पानी में भिगोकर रखें। सुबह इसी पानी से सिर को अच्छे से धोएँ। इसके बाद तेल लगाएँ, यह अच्छे किस्म का हेयर डाई है।

कोल्ड वैक्स :
250 ग्राम शकर में 6 बड़े नींबू का रस निचोड़कर डालें। इसे धीमी आँच पर पकाएँ और चिपचिपा होने पर उसे उतारकर एक बड़ा चम्मच ग्लिसरीन मिलाकर किसी काँच के जार में भरकर रखें। इसे वैक्सिंग के लिए इस्तेमाल करें।