Fact Check: फिटकरी, हल्दी और सेंधा नमक से होगा ब्लैक फंगस का इलाज? PIB ने दावे को बताया फर्जी

Last Updated: मंगलवार, 25 मई 2021 (12:50 IST)
कोरोना से ठीक हुए मरीजों में यानि नाम की बीमारी देखी जा रही है। ब्लैक फंगस सरकार के लिए चिंता का विषय बनती जा रही है क्योंकि यह खतरनाक संक्रमण तेजी के साथ फैलने के साथ ही लोगों को अपना शिकार भी बना रही है। इस बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें दावा किया जा रहा है कि फिटकरी, हल्दी, और का मंजन ब्लैक फंगस रोकने में कारगर है। आइए जानते हैं कि इस दावे में कितनी सच्चाई है।


क्या है वायरल वीडियो में-


वायरल वीडियो में दिल्ली के डॉ. परमेश्वर अरोरा ब्लैक फंगस का घरेलू आयुर्वेदिक नुस्खा बताते नजर आ रहे हैं। डॉ. अरोरा दावा करते हैं कि फिटकरी, हल्दी और सेंधा नमक को मिलाकर बनाए गए मंजन में सरसों का तेल डालकर जबड़ों पर लगाने से ब्लैक फंगस नहीं होगा।



क्या है सच्चाई-


भारत सरकार की प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो (PIB) ने सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो में किए गए दावे का विश्लेषण किया और पाया कि यह दावा फर्जी है और फिटकरी, हल्दी, सेंधा नमक और सरसों के तेल से ब्लैक फंगस के इलाज का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है।



PIB ने अपने ट्वीट में लिखा है- “दावा: फिटकरी, हल्दी, सेंधा नमक व सरसों के तेल से #का इलाज किया जा सकता है। #PIBFactCheck:यह दावा #फर्जी है। इस नुस्खे से ब्लैक फंगस के उपचार का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। कृपया ऐसी किसी भी गंभीर स्वास्थ्य समस्या के उपचार के लिए केवल घरेलू नुस्खों पर विश्वास न करें।”



और भी पढ़ें :