PM मोदी ने कांग्रेस पर वोट के लिए जनरल रावत के 'कटआउट' का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया

Last Updated: गुरुवार, 10 फ़रवरी 2022 (23:16 IST)
हमें फॉलो करें
श्रीनगर (उत्तराखंड)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को पर लगाया कि जब जीवित थे तो उसने उन्हें अपशब्द कहे और अब वह उनके कटआउटों का इस्तेमाल वोट के लिए कर रही है। उत्तराखंड में 14 फरवरी को होने जा रहे विधानसभा चुनाव से पहले यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए

मोदी ने कहा कि यह वही कांग्रेस है जिसने पाकिस्तान में आतंकी ठिकानों के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगे थे। दिल्ली में तो इनके नेताओं ने बाकायदा टीवी पर जाकर सेना से सबूत मांगे थे। प्रधानमंत्री ने लोगों को याद दिलाया कि कांग्रेस पार्टी के एक नेता ने तो देश के पूर्व रक्षा प्रमुख जनरल रावत को 'सडक का गुंडा' भी कहा था। उन्होंने कहा कि देश के शहीदों के लिए यह कांग्रेस की नफरत ही दिखाता है।

उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस 'वन रैंक, वन पेंशन' के मुद्दे पर लगातार झूठ बोलती रही लेकिन अब वह जनरल रावत के कटआउट और फोटो लगाकर वोट मांग रही है। कुर्सी के लिए कोई इस सीमा तक जा सकता है, मुझे विश्वास नहीं हो रहा है। आज अगर वोट के लिए ये लोग (कांग्रेस) जनरल रावत का सियासी इस्तेमाल करना चाह रहे हैं तो उन्हें जवाब देने की जिम्मेदारी उत्तराखंड के लोगों की है।
जनरल बिपिन रावत का स्मरण करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी याद उन्हें भावुक कर रही है। उन्होंने दिखाया कि उत्तराखंड के लोगों के पास न केवल पहाड़ जैसा साहस होता है बल्कि हिमालय जैसी ऊंची सोच भी होती है। कांग्रेस की सोच को केवल 'सत्ता के सुख तक सीमित' बताते हुए उन्होंने कहा कि वह बलिदान और देशसेवा का मूल्य कभी नहीं समझ सकती।


लोगों से कांग्रेस को चुनाव में करारा जवाब देने का आग्रह करते हुए मोदी ने कहा कि पूर्व की कांग्रेस सरकारों ने विकास गतिविधियों को पीछे की तरफ धकेला और लोगों को पहाड़ों से बड़ी संख्या में पलायन करने को मजबूर किया है। बुधवार को जारी भाजपा का 'दृष्टिपत्र : 2022' इस दशक को उत्तराखंड का दशक बनाने में मदद करेगा जिसमें प्रदेश के युवाओं, महिलाओं, किसानों सहित सभी वर्गों के विकास के लिए संकल्प लिए गए हैं।

मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने 'वन रैंक, वन पेंशन' सरकार लागू करने के साथ ही प्रदेश का 5वां धाम- सैन्य धाम बना रही है। हालांकि उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि उत्तराखंड का यह गौरव उनकी समझ में नहीं आएगा, जो देश की सेना और शहीदों का मजाक उड़ाते हैं।
उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के निर्माण से लेकर उसके संवारने तक के सपने भाजपा ने लोगों के साथ मिलकर देखे लेकिन दुर्भाग्य से कुछ सालों तक उसकी कमान ऐसे लोगों के पास चली गई, जो इसका जन्म ही नहीं चाहते थे। उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य दोनों जगहें कांग्रेस की सरकारें होने के बावजूद उसने ब्रेक लगाकर राज्य को पीछे धकेल दिया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 2017 के बाद डबल इंजन की सरकार ने हालांकि प्रदेश में इतना काम किया कि ब्रेक लगाने वालों को भी अब वही वादे करने पड़ रहे हैं। जब ये (कांग्रेस) सत्ता में थे तो इन्हें चारधामों की याद नहीं आई लेकिन अब इन्हें उनकी याद आ रही है, क्योंकि ये उन्हें कुर्सी हासिल करने का रास्ता लग रहा है।

केदारनाथ पुनर्निर्माण, बद्रीनाथ मास्टर प्लान, चारधाम ऑल वेदर सडक परियोजना, ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेललाइन परियोजना सहित कई प्रमुख परियोजनाओं को जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने लोगों से भाजपा को वोट देने को कहा ताकि दिल्ली से आ रही विकास की धारा कहीं ठप न हो जाए। उन्होंने कहा कि 14 तारीख को आप वोट देकर बेईमानी और भ्रष्टाचार, वंशवाद और परिवारवाद को ब्लॉक कर दें।



और भी पढ़ें :